यूपी बीजेपी अध्यक्ष की तलाश के बीच केशव प्रसाद मौर्य के ट्वीट से सियासी अटकलें तेज – NDTV India

नई दिल्ली:

यूपी बीजेपी के अध्यक्ष (UP BJP Chief) पर नामों की चर्चा के बीच उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) का ट्वीट सामने आया है. मौर्य ने लिखा है कि संगठन सरकार से बड़ा है. मौर्य ने इस ट्वीट को पिन करके इस पर जोर भी दिया है. कुछ दिनों पहले ही उप मुख्यमंत्री केपी मौर्य बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा से मिले थे.  मौर्य उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष रह चुके हैं और उन्हीं की अगुवाई में बीजेपी ने 2017 में पूर्ण बहुमत प्राप्त किया था.एक बार फिर से मौर्य का नाम प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए चर्चा में है और इस बीच उन्होंने यह ट्वीट किया. हालांकि राज्य बीजेपी अध्यक्ष के लिए दलित या फिर ब्राह्मण नेता का नाम भी चल रहा है. लेकिन मौर्य अनुभव और जातिगत समीकरणों में फिट बैठते हैं.

यह भी पढ़ें

बीजेपी में एक व्यक्ति एक पद का सिद्धांत है और इसीलिए वर्तमान अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के हटने की बात है क्योंकि वे राज्य सरकार में मंत्री भी हैं.बताते चलें कि पिछले विधानसभा चुनाव में  केशव प्रसाद मौर्य चुनाव हार गए थे लेकिन पार्टी की तरफ से उन्हें उपमुख्यमंत्री बनाया गया था. भारतीय जनता पाटी (बीजेपी) ने विधान परिषद चुनाव में उन्हें प्रत्याशी बनाकर सदन में भेजा था. 

गौरतलब है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को उत्तर प्रदेश से काफी उम्मीदें हैं. बिहार में जदयू से गठबंधन टूटने के बाद केशव प्रसाद मौर्य बीजेपी के लिए ओबीसी समाज के बड़े चेहरे के तौर पर उत्तर प्रदेश में देखे जा रहे हैं. पार्टी को उम्मीद है कि इसका प्रभाव यूपी से लगे बिहार के जिलों पर भी पड़ सकता है. केशव प्रसाद मौर्य ने इस बार मंत्री पद का शपथ लेने के बाद कहा भी था कि 2024 में 75+ के संकल्प के साथ हम आगे बढ़ेंगे.

केशव प्रसाद मौर्य ने शपथ लेने के बाद कहा था “हमारी सरकार की प्राथमिकता ग़रीब कल्याण की है. यही वजह है कि हमने तीन महीने के लिए मुफ़्त राशन योजना बढ़ा दी है. उन्होने कहा इस योजना से  यूपी में लगभग 15 करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा.  केशव प्रसाद मौर्य ने आगे कहा “हम पांच साल केंद्र और राज्य सरकार की नीतियों को घरों तक पहुंचाएंगे.  उन्होंने कहा हमारी लोकसभा की तैयारी जारी है और हम लोकसभा में यूपी में 75+ का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं. 

ये भी पढ़ें- 

Related posts