दिल्ली-एनसीआर : राजधानी में फिर बारिश और बिजली का दौर, तेज हवाओं के साथ रुक-रुक कर बरसात – अमर उजाला – Amar Ujala

ख़बर सुनें

विस्तार

दिल्ली-एनसीआर में मौसम लगातार ठंडा बना हुआ है और शुक्रवार सवेरे की बारिश के बाद एक बार फिर गरज के साथ बादल बरसे। बारिश के साथ ही तेज हवाएं भी चलीं। बारिश और हवाओं से ठंडक का अहसास बढ़ गया है। 

विज्ञापन

मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली, पानीपत, रोहतक, फरीदाबाद, गुड़गांव, नोएडा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश होगी और बिजली भी चमकेगी। 

इससे पहले मौसम विभाग के पूर्वानुमान के उलट शुक्रवार अल सुबह दिल्ली-एनसीआर में मौसम ने करवट ली। घने बादलों के साथ करीब ढाई घंटे तक बारिश हुई। इससे दिल्लीवासियों को दिनभर अधिक गर्मी से राहत मिली है। अगले 24 घंटों में भी बादल दिल्ली को घेरे रहेंगे और हल्की बारिश के आसार बने हुए हैं।

मौसम विभाग ने एक दिन पहले बादल छंटने के साथ धूप निकलने की संभावना जताई थी, लेकिन अल सुबह जब लोग सुबह सो कर उठे तो दिन निकलने के साथ ही बादलों की वजह से अंधेरा छा गया। सुबह करीब छह बजे से शुरू हुआ बारिश का दौर साढ़े आठ बजे जाकर थमा। शाम साढ़े पांच बजे तक दिल्ली में तीन मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। दिन में कुछ देर के लिए सूरज निकला, लेकिन बादलों की वजह से इसके तेवर ढीले ही रहे।

प्रादेशिक मौसम विभाग के मुताबिक, शुक्रवार को राजधानी का अधिकतम तापमान सामान्य से सात कम 33.1 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान भी सामान्य से सात कम 19.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का अधिकतम स्तर 100 और न्यूनतम 55 फीसदी रह। सबसे अधिक बारिश 3.4 मिमी आया नगर में दर्ज की गई है। इसके बाद लोदी रोड में 3.2, पालम में 2.8, गुरुग्राम में दो और स्पोर्ट्स कांप्लेक्स इलाके में एक मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई। पालम में 32.7, लोधी रोड में 32, आया नगर में 32.4, गुरुग्राम में 31.5, पीतमपुरा में 33.4 और स्पोर्ट्स कांप्लेक्स इलाके में 32.3 अधिकतम तापमान दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, अगले 24 घंटों में भी दिल्ली में बादल छाए रहेंगे और हवा चले के साथ शाम तक हल्की बारिश दर्ज की जा सकती है। अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस तक बने रहने की संभावना है। दिल्ली में बारिश ने बृहस्पतिवार सुबह तक पिछले 120 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया था। लगातार 24 घंटे से भी हुई अधिक बारिश की वजह से मई में 119.3 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है।

Related posts