कैलाश विजयवर्गीय का खुलासा-कमलनाथ सरकार गिराने में पीएम मोदी की थी महत्वपूर्ण भूमिका – अमर उजाला

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, इंदौर
Updated Thu, 17 Dec 2020 08:15 AM IST

कैलाश विजयवर्गीय (फाइल फोटो)
– फोटो : Facebook

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

मप्र की पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार गिरने को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को इंदौर में बड़ा खुलासा किया। उन्होंने एक किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए दावा किया कि कमलनाथ सरकार को गिराने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन्होंने यह भी कहा कि वे पहली बार यह बात इस मंच से बता रहे हैं। विजयवर्गीय के इस दावे के बाद मप्र कांग्रेस ने पीएम मोदी पर आरोप लगाया कि वह चुनी हुई सरकारों को असंवैधानिक तरीके से गिराते हैं। 

विज्ञापन

विजयवर्गीय बोले -धर्मेंद्र प्रधान ने नहीं निभाई भूमिका

विजयवर्गीय ने भाजपा के किसान सम्मेलन में कहा, ‘आप किसी को बताना मत, मैंने आज तक किसी को नहीं बताया है। पहली बार इस मंच से बता रहा हूं कि कमलनाथ सरकार को गिराने में अगर किसी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी तो वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी थे, धर्मेंद्र प्रधान नहीं।’

मंच पर मौजूद थे केंद्रीय मंत्री प्रधान
बता दें कि जिस मंच के कैलाश विजयवर्गीय ने यह बात कही, उस मंच पर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मौजूद थे। इससे पहले जून में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने कांग्रेस सरकार को गिराने का काम किया था।

कांग्रेस ने वीडियो ट्वीट कर लगाया आरोप
वहीं, मध्यप्रदेश के कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने विजयवर्गीय के भाषण के वीडियो को ट्वीट किया और लिखा है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस की चुनी हुई संवैधानिक सरकारो को असंवैधानिक तरीके से गिराते है। यह खुद भाजपा के ही राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय कह रहे है। एमपी की कमलनाथ सरकार को मोदी जी ने ही प्रमुख भूमिका निभा कर गिराया। 
 

बता दें कि मार्च में पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति निष्ठावान 22 विधायकों (छह मंत्रियों सहित) ने विधानसभा और कांग्रेस छोड़ दी थी। इसके परिणामस्वरूप मध्यप्रदेश में 15 महीने पुरानी कमलनाथ सरकार गिर गई थी।

Related posts