हाथरस केस की सुनवाई खत्म, पीड़ित परिवार और अधिकारी हाईकोर्ट से बाहर निकले – News18 इंडिया

















4:29 pm (IST)
इलाहाबाद हाईकोर्ट में हाथरस केस की सुनवाई खत्म हो गई है. इसके बाद हाईकोर्ट से पीड़ित परिवार और अधिकारी बाहर निकल गए हैं.

















4:15 pm (IST)
गौरतलब है कि गत 14 सितंबर को हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र में 19 साल की एक दलित लड़की से अगड़ी जाति के चार युवकों ने कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया था. इस घटना के बाद हालत खराब होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. बाद में उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया था, जहां गत 29 सितंबर को उसकी मृत्यु हो गई थी. इस घटना को लेकर विपक्ष ने राज्य सरकार पर जबरदस्त हमला बोला था. वहीं, अब इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया गया है और सीबीआई टीम हाथरस में ढेरा डाल चुकी है.

















4:12 pm (IST)
इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने हाथरस कांड का स्वत: संज्ञान लेते हुए इस मामले में आला अधिकारियों को गत एक अक्टूबर को तलब किया था. अदालत पीड़ित परिवार के बयान दर्ज करेगी. न्यायालय ने गत एक अक्टूबर को घटना के बारे में बयान देने के लिए मृत पीड़िता के परिजनों को बुलाया था. जबकि एक अक्टूबर को न्यायमूर्ति राजन रॉय और न्यायमूर्ति जसप्रीत सिंह ने प्रदेश के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक और अपर पुलिस महानिदेशक, जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक हाथरस को घटना के बारे में स्पष्टीकरण देने के लिए 12 अक्टूबर को अदालत में तलब किया था.

















4:03 pm (IST)

आज कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में पीड़िता के माता पिता समेत पांच परिजन सोमवार सुबह छह बजे हाथरस से लखनऊ के लिये रवाना हुये थे और दोपहर बाद इलाहाबाद पहुंचे.

















3:58 pm (IST)
हाथरस केस की सुनवाई जारी है. इस दौरान पीड़िता के परिजन अदालत के समक्ष उपस्थित हुए. पीड़ित परिवार के साथ अपर मुख्य सचिव (गृह विभाग) अवनीश के अवस्थी, डीजीपी एचसी अवस्थी और स्थानीय प्रशासन, डीएम और एसपी समेत अन्य अधिकारी भी मौजूद हैं. 

















3:14 pm (IST)

हाईकोर्ट में हाथरस मामले की सुनवाई शुरू. अपर मुख्य सचिव गृह. DGP और हाथरस DM-SP पहुचे HC. उत्तराखंड भवन से पीड़ित परिवार भी पहुंचा हाई कोर्ट. हाईकोर्ट के गेट-4 से अधिकारी और गेट-5 से पहुंचा पीड़ित परिवार. अब से कुछ देर में हाईकोर्ट हाथरस मामले में करेगा सुनवाई. हाईकोर्ट ने जबरन अंतिम संस्कार की खबरों पर लिया था स्वतः संज्ञान.

















3:05 pm (IST)
पीड़ित परिवार के पांच सदस्य कोर्ट में मौजूद. एसीएस होम, डीजीपी, एडीजी एलओ, हाथरस के डीएम, एसपी भी कोर्ट में मौजूद.पीड़ित परिवार के पांच सदस्य कोर्ट में मौजूद. एसीएस होम, डीजीपी, एडीजी एलओ, हाथरस के डीएम, एसपी भी कोर्ट में मौजूद.

















11:07 am (IST)
हाईकोर्ट लखनऊ बेंच के बाहर सुरक्षा के सख़्त इंतज़ाम. कुछ देर में पीड़ित परिवार पहुंचेगा हाईकोर्ट.

















10:53 am (IST)
आगरा एक्सप्रेस वे के रास्ते 6 अग्दियों का काफिला लखनऊ पहुंचा. आगरा एक्सप्रेस वे के रास्ते 6 अग्दियों का काफिला लखनऊ पहुंचा, दोपहर दो बजे पीड़िता के परिवार इस मामले से संबंधित सभी अधिकारियों को आज हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के सम्कः उपस्थित होना है.

















10:49 am (IST)
योगी के अफसर लगातार प्रदेश को गुमराह करते रहे. सरकार कह रही थी कि रेप की घटना हुई ही नहीं. योगी के अफसर लगातार प्रदेश को गुमराह करते रहे. सरकार कह रही थी कि रेप की घटना हुई ही नहीं. माननीय न्यायालय ने खुद पूरे मामले में संज्ञान लिया. उत्तर प्रदेश को गुमराह करने वाले अफसर अब कटघरे में खड़े रहेंगे. यूपी में जज की भूमिका में दिखाई देने वाले अधिकारियों ने जेल जाने वाला काम किया है.

Related posts