नड्डा का दौरा: बिहार में राम के नाम से दूर हुई भाजपा के मुखिया पहुंचे ‘पटना के कोतवाल’ के द्वार; प्रसाद चढ़ा… – दैनिक भास्कर

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • BJP President JP Nadda In Patna Visits Mahaveer Temple And JP Home Ahead Of Bihar Assembly Elections 2020

पटना2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना काल की पहली चुनावी रैली को संबोधित करने से पहले जेपी नड्डा महावीर मंदिर में दर्शन करने पहुंचे।

  • पटना जंक्शन स्थित महावीर मंदिर गए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा
  • महावीर मंदिर में दर्शन के बाद जेपी नड्डा जयप्रकाश नारायण के आवास चरखा समिति में गए

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा रविवार को ‘पटना के कोतवाल’ के द्वारे पहुंचे। वे पटना जंक्शन स्थित महावीर मंदिर पहुंचे और संकटमोचक के दरबार में अपनी हाजिरी लगाई। बिहार विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की औपचारिक शुरुआत के ठीक पहले बजरंगबली के दरबार पहुंचे जेपी नड्‌डा ने उनको माला और प्रसाद चढ़ाया। यहां नड्डा के साथ सुशील कुमार मोदी और संजय जायसवाल भी पहुंचे थे।

'पटना के कोतवाल' के कहे जानेवाले हनुमानजी के दरबार में नड्डा ने हाजिरी लगाई।

‘पटना के कोतवाल’ के कहे जानेवाले हनुमानजी के दरबार में नड्डा ने हाजिरी लगाई।

अपने एक दिवसीय दौरे पर पटना पहुंचे जेपी नड्‌डा पटना एयरपोर्ट से सीधे महावीर मंदिर पहुंचे। उनके साथ पार्टी के कई बड़े नेता और पदाधिकारी भी पहुंचे थे। लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती से अपने प्रचार अभियान की शुरुआत कर रहे नड्‌डा और भाजपा के लिए हनुमान जी संकटमोचक बनेंगे या नहीं यह तो वक्त ही बताएगा।

महावीर मंदिर के बाद जेपी के आवास गए नड्डा

महावीर मंदिर में दर्शन के बाद जेपी नड्डा कदमकुआं स्थित जयप्रकाश नारायण के आवास चरखा समिति में गए। इस अवसर पर उन्होंने वहां पुस्तिका पर हस्ताक्षर भी किये। लिखा कि इस तपोस्थली पर आकर नई ऊर्जा मिली है। युवाकाल में कई बार पूज्य जेपी के दर्शन करने का सौभाग्य मिला है। हमें उनके साथ समय समय पर प्रेरणा मिलती रही है। आज उनके जन्मदिन पर यहां आना बहुत अच्छा लगा। नड्डा ने यहीं से जेपी को नमन कर चुनाव प्रचार का आगाज किया। यहां भी उनके साथ सुशील कुमार मोदी और संजय जायसवाल मौजूद थे।

जयप्रकाश नारायण के आवास पहुंचकर जेपी नड्डा ने अपने युवावस्था को याद किया।

जयप्रकाश नारायण के आवास पहुंचकर जेपी नड्डा ने अपने युवावस्था को याद किया।

अपनी सफलताएं भुना नहीं पाएगी भाजपा

राममंदिर निर्माण का मुद्दा हो या कश्मीर से धारा 370 हटाने की सफलता, भाजपा चाहकर भी इन मुद्दों को बिहार चुनाव में नहीं ला पाएगी। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण जदयू का साथ है जिसकी वजह से भाजपा इन विषयों को अपने प्रचार का हिस्सा नहीं बना पाएगी। असल में जदयू को ऐसा लगता है कि इन मुद्दों के चुनाव प्रचार में गूंजने से उसके अल्पसंख्यक वोटर उसके साथ नहीं आएंगे।

Related posts