हाथरस गैंगरेप: पीड़ित परिवार की ओर से प्रियंका गांधी की यूपी सरकार से दो मांगें, तीन सवाल – NDTV India

हाथरस में पीड़ित परिवार के घर में प्रियंका गांधी.

नई दिल्ली:

हाथरस (Hathras) में गैंगरेप  (Gang Rape) और हमले की शिकार हुई लड़की के परिवार से शनिवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद जहां राहुल गांधी  (Rahul Gandhi) ने कहा कि कोई भी ताकत हमें चुप नहीं करा सकती, वहीं प्रियंका गांधी ने ट्वीट करके पीड़ित परिवार के सवाल यूपी सरकार के सामने रखे. उन्होंने पूरे मामले की सुप्रीम कोर्ट के जरिए जांच कराने और हाथरस के डीएम को सस्पेंड करने की मांग की. उन्होंने लड़की की मौत और उसके अंतिम संस्कार से जुड़े तीन सवाल पूछे हैं.          

यह भी पढ़ें

प्रियंका गांधी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के जरिए पूरे मामले की न्यायिक जांच हो. हाथरस के डीएम को सस्पेंड किया जाए और किसी बड़े पद पर नहीं लगाया जाए. पीड़ित परिवार की ओर से उन्होंने कहा है कि हमारी बेटी के शव को बगैर हमसे पूछे पेट्रोल से क्यों जलाया गया? हमें बार-बार गुमराह किया, धमकाया क्यों जा रहा है? हम इंसानियत के नाते चिता से फूल चुनकर लाए मगर हम कैसे मानें कि यह शव हमारी बेटी का ही था या नहीं? 

प्रियंका गांधी ने कहा है कि इन प्रश्नों के उत्तर पाना इस परिवार का हक है और उत्तर प्रदेश सरकार को ये जवाब देना पड़ेगा. 

हाथरस में हुए लड़की के गैंगरेप और हमले की घटना को लेकर राजनीति तेज हो गई है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी शनिवार को हाथरस पहुंचे और लड़की के पीड़ित परिवार से मिले. पीड़ित परिवार से मिलने के बाद राहुल गांधी ने कहा कि कोई भी ताकत हमें चुप नहीं करा सकती. गौरतलब है कि गैंगरेप की शिकार लड़की गंभीर हालात में कई दिन जीवन के लिए जूझती रही. उसकी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई थी.  

शनिवार को दोपहर में जैसे ही राहुल और प्रियंका गांधी के हाथरस जाने की खबर मिली यूपी प्रशासन ने डीएनडी टोल नाके को बंद कर दिया. जब राहुल गांधी वहां पहुंचे तो उन्हें रास्ता दे दिया गया लेकिन उससे पहले वहीं मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भीड़ पर पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज किया. राहुल और प्रियंका को इस शर्त के साथ जाने की अनुमति दी गई कि अधिकतम पांच लोग जा सकते हैं. 

बलिया के एमएलए ने कहा, लड़कियों के संस्कारित न होने के कारण रेप की घटनाएं

एडीजी लव कुमार ने कहा कि हमने राहुल और प्रियंका गांधी सहित सिर्फ़ पांच लोगों को इजाज़त दी है. राहुल गांधी के साथ कुछ कार्यकर्ता आगे जाने के लिए अड़े हुए थे. हल्का सा बल प्रयोग किया गया है. राहुल गांधी को पीड़ित परिवार से मिलने दिया जाएगा. यूपी पुलिस राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पीड़ित परिवार से मिलने से नहीं रोकेगी. क़ानून व्यवस्था के लिए ट्रैफ़िक रोका गया है. थोड़ी देर में सब बैरियर खोल दिए जाएंगे. 

पी CM योगी आदित्यनाथ ने हाथरस मामले की CBI जांच कराए जाने के दिए आदेश

इसके बाद राहुल और प्रियंका के साथ कांग्रेस के सांसद केसी वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी और पीएन पुनिया हाथरस रवाना हो गए. हाथरस पहुंचने के बाद शाम को राहुल व प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस मामले की CBI जांच कराए जाने का आदेश दिया है.

Related posts