दिल्ली हिंसा : AAP विधायक अमानतुल्लाह खान बोले- मुस्लिम होना हिंदुस्तान में सबसे बड़ा गुनाह, गौतम गंभीर ने कुछ यूं दिया जवाब – NDTV Khabar

नई दिल्ली: दिल्ली हिंसा को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी (AAP) के नेताओं के बीच जुबानी जंग जारी है. आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने AAP से निलंबित पार्षद और दंगा भड़काने एवं हत्या के आरोपी ताहिर हुसैन के समर्थन में ट्वीट करते हुए आरोप लगाया कि उसे मुस्लिम होने की सजा मिली है. अमानतुल्लाह ने शनिवार को ट्वीट में लिखा- “आज ताहिर हुसैन सिर्फ़ इस बात की सज़ा काट रहा है की वो एक मुस्लिम है. शायद आज हिंदुस्तान में सबसे बड़ा गुनाह मुस्लिम होना है. ये भी हो सकता है आने वाले वक्त में ये साबित कर दिया जाए कि दिल्ली की हिंसा ताहिर हुसैन ने कराई है.” क्रिकेटर और पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने अमानतुल्लाह के इस ट्वीट का जवाब दिया है. बीजेपी सांसद ने आप विधायक पर पलटवार करते हुए ट्वीट में लिखा- सुंदरकांड का पाठ कराने चले…और कुछ सुंदर ना रहा… पर सुनियोजित कांड ज़रूर हुआ ! अरविंद केजरीवाल देश की रक्षा करने वाले अंकित शर्मा पर 400 वार हुए जिसका आरोप ताहिर पर है! और अपनी ज़ुबान से देश को बाँटने और धर्म पर वार करने का काम आपके विधायक कर रहे हैं. सवाल “आप” की नीयत पर है!”सुंदरकांड का पाठ कराने चले…और कुछ सुंदर ना रहा..पर सुनियोजित कांड ज़रूर हुआ [email protected] देश कि रक्षा करने वाले अंकित शर्मा पर 400 वार हुए जिसका आरोप ताहिर पर है!और अपनी ज़ुबान से देश को बाँटने और धर्म पर वार करने का काम आपके विधायक कर रहे हैं ।सवाल “आप” की नीयत पर है ! https://t.co/4yzgfoeSTs
— Gautam Gambhir (@GautamGambhir) March 7, 2020ताहिर की जांच पड़ताल में SIT के हाथ लगी अहम जानकारी, 15 लोगों की हुई पहचानदिल्ली की एक अदालत ने आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को उत्तर पूर्वी दिल्ली की हाल की हिंसा के दौरान खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा की कथित रूप से हत्या करने के मामले में शुक्रवार को सात दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया. दिल्ली पुलिस ने उन्हें अदालत में पेश किया था. पुलिस ने कहा कि बड़ी साजिश का पता लगाने के लिए हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जरूरत है. सुप्रीम कोर्ट के रिटायर जजों ने किया दंगा प्रभावित इलाकों का दौरा, दिल्ली हिंसा को बताया ‘व्यवस्था की नाकामी’आप से निलंबित चल रहे पार्षद ताहिर हुसैन को गुरुवार को गिरफ्तार किया था. उससे पहले उन्होंने दिल्ली की एक अदालत में आत्मसमर्पण करने की अर्जी दायर की थी, जिसे अदालत ने खारिज कर दिया था. ताहिर हुसैन पर आईबी कर्मी की हत्या और दंगा भड़काने का आरोप है. उनके खिलाफ तीन मामले दर्ज किए गए हैं. दिल्ली पुलिस को ताहिर के घर की छत से बोरों में भरकर रखे गए पत्थर और पेट्रोल बम मिले थे. जिसके बाद से वह गिरफ्तारी से बचने की कोशिश में लगे थे.  टिप्पणियांवीडियो: दिल्ली हिंसा मामले में AAP पार्षद पर हत्या का केस दर्ज

Related posts