दुनिया में चौथे नंबर पर पहुंची भारतीय कोस्ट गार्ड, मिलेंगे 50 जहाज और 16 एडवांस हेलीकॉप्टर

Publish Date:Thu, 16 Jan 2020 09:47 PM (IST)

चेन्नई, प्रेट्र। भारतीय तटरक्षकों के बेड़े में 50 नये जहाज और 16 एडवांस हल्के हेलीकॉप्टर और जुड़ जाएंगे। इसके साथ ही भारतीय तटरक्षकों के पास वर्ष 2025 तक कुल 200 जहाज और 100 विमान होंगे।
तटरक्षक महानिदेशक कृष्णस्वामी नटराजन ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया कि अमेरिका के बाद जापान के पास दुनिया का दूसरे सबसे बड़े तटरक्षक सुरक्षा बल हैं। मैं पूरे गर्व से कह सकता हूं कि 145 जहाजों और 62 विमानों के साथ भारतीय तटरक्षकों को दुनिया का चौथा सर्वश्रेष्ठ तटरक्षक होने का दर्जा हासिल हुआ है। उन्होंने बताया कि इस समय विभिन्न भारतीय शिपयार्ड में 50 जहाज निर्माणाधीन हैं। इसके अलावा, बेंगलुरु स्थित एचएएल में 16 एमके3 एडवांस लाइट हेलीकॉप्टरों का उत्पादन हो रहा है।
चेन्नई के तट से 50 नॉटिकल मील दूर भारत-जापान के 19वें संयुक्त अभियान के बाद नटराजन ने बताया कि मार्च 2020 तक ट्विन इंजन वाला पहला हेलीकॉप्टर दस्ते में शामिल होने की उम्मीद है। उन्होंने यह भी बताया कि तटरक्षकों के दस्ते में खासी प्रगति हुई है और मौजूदा समय में उसके पास 145 जहाज और 62 विमान हैं। तटरक्षकों का बजट जो करीब एक हजार करोड़ रुपये रहता था, वह अब बढ़कर 5000 करोड़ रुपये से अधिक का हो गया है। उन्होंने बताया कि विशिष्ट आर्थिक जोन में गश्त और सुरक्षा बढ़ाने के लिए 14 ट्विन इंजन हैली हेलीकॉप्टर और छह बहुआयामी नौसैनिक विमान भी हासिल करने की प्रक्रिया चल रही है।

विश्व में चौथी सबसे बड़ी तटीय सुरक्षा एजेंसी होने का गौरव हासिल करने वाले भारतीय तटरक्षकों ने देश में 36 तटीय सुरक्षा रडार नेटवर्क देश की मुख्य भूमि पर और 10 रडार नेटवर्क द्वीपों पर स्थापित किए हैं। इनकी मदद से किसी भी संदिग्ध जहाज की तत्काल पहचान हो सकती है। उन्होंने बताया कि बंदरगाहों पर स्थापित एकीकृत रडार स्टेशनों के इतर भी 38 और रडार स्टेशन स्थापित किए जाने की योजना है। हमारा लक्ष्य वर्ष 2025 तक बेड़े में कुल 200 जहाज और 100 विमान करना है।
Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment