CAB Protest in Delhi : दिल्‍ली में हिंसक हुआ प्रदर्शन, कई बसें और पुलिस चौकियां फूंकी, पुलिस मुख्‍यालय पर प्रदर्शन

Publish Date:Mon, 16 Dec 2019 01:01 AM (IST)

नई दिल्‍ली, एजेंसी।  CAB Protest in Delhi :  देश में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के नाम पर हिंसा की आग भड़कती जा रही है। दिल्ली के जामिया मिल्लिया विश्वविद्यालय और अलीगढ़ के एएमयू में उपद्रवियों ने सबसे ज्यादा बवाल किया। दिल्ली में कई बसें और पुलिस चौकियां फूंक दी गई। यहां छात्रों, पुलिसकर्मियों और दमकलकर्मियों समेत करीब 40 लोग घायल हो गए। 
चार बसों में आग लगाई
दिल्ली में सीएए के विरुद्ध जामिया मिल्लिया इस्लामिया में तीन दिन से विरोध प्रदर्शन चल रहा था। रविवार को छात्रों के प्रदर्शन में स्थानीय लोगों के शामिल हो जाने के बाद स्थिति अनियंत्रित हो गई। उत्पातियों ने पूरे दिन दिल्ली-नोएडा रोड और मथुरा रोड को ठप रखा। शाम करीब पांच बजे मथुरा रोड पर सूर्या होटल के सामने चार बसों और बटला हाउस मेन चौक पर बनी पुलिस चौकी को आग लगा दी। न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में टकराव के दौरान उपद्रवियों ने पुलिस के दो वाहनों में आग लगा दी। हिंसा में छह पुलिसकर्मी और दो दमकलकर्मी घायल हो गए। उपद्रवियों ने राहगीरों को भी निशाना बनाया। कई मोटरसाइकिलें फूंक दी गई। हिंसा में कई राहगीर घायल हो गए। उत्पात मचा रहे उपद्रवियों को पुलिस ने लाठी भांजकर भगाया।

कई छात्र अस्‍पताल में भर्ती  
सूत्रों के अनुसार, 31 छात्र भी नजदीकी अस्पतालों में लाए गए, जिनमें से 11 को भर्ती किया गया है। हिंसा के बाद जामिया के चीफ प्रोक्टर वसीम अहमद खान ने पुलिस पर जबरन कैंपस में घुसने का आरोप लगाया है। वहीं पुलिस का कहना है कि स्थिति पर नियंत्रण के लिए कैंपस में जाना पड़ा। फिलहाल यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं रद कर दी गई हैं और पांच जनवरी तक के लिए छुट्टी कर दी गई है।

पुलिस की कार्रवाई निंदनीय: वाइस चांसलर
जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय की वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने कहा, जो छात्र लाइब्रेरी के अंदर थे, उन्हें बाहर निकाल दिया गया और वे सुरक्षित हैं। पुलिस की कार्रवाई निंदनीय है।
दिल्ली पुलिस हेडक्वॉर्टर का घेराव
जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी मामले में दिल्ली पुलिस हेडक्वॉर्टर का घेराव करने रविवार देर रात प्रदर्शनकारी पहुंचे। खबर लिखे जाने तक प्रदर्शन जारी रहे दिल्ली मेट्रो के आईटीओ और आईआईटी मेट्रो स्टेशन पर भी बंद किए गए। इन स्टेशनों पर नहीं रुकेगी मेट्रो। प्रदर्शन के बाद दिल्‍ली में 15 से अधिक दिल्ली मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद किए गए।

दिल्ली पुलिस के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि प्रदर्शनकारी जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी के छात्र थे या नहीं, यह पता नहीं चल पाया है। यूनिवर्सिटी के अंदर से पत्थरबाजी हो रही थी, जहां से पत्थरबाजी हो रही थी, वहां पुलिस गई। आज दोपहर में प्रदर्शनकारी भीड़ ने डीटीसी बसों में तोड़फोड़ की, मोटरसाइकिलों में भी तोड़फोड़ की। पुलिस पर पत्थरबाजी भी की गई। पुलिस ने कोई भी गोली अब तक नहीं चलाई है, पुलिस के 6 लोग घायल हुए हैं।

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा है कि स्थिति अब काबू में है। मैं दिल्ली के लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील करता हूं। दिल्ली पुलिस स्थिति को मॉनिटर कर रही है। हम जल्द ही असामाजिक तत्वों की पहचान कर उनपर कड़ी कार्रवाई करेंगे।

चार मेट्रो स्‍टेशन बंद किए गए  
विरोध प्रदर्शन के बाद दिल्ली मेट्रो ने 4 स्टेशनों पर मेट्रो सेवा पर बंद की। सुखदेव विहार, जामिया मिल्लिया इस्लामिया, ओखला विहार, जसोला विहार शाहीन बाग मेट्रो स्टेशन पर सभी गेट बंद किए गए। यहां मेट्रो नहीं रुकेगी। 
दक्षिण दिल्‍ली के स्‍कूल आज रहेंगे बंद
दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली के ओखला, जामिया, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, मदनपुर खादर क्षेत्र के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल कल बंद रहेंगे। नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली सरकार ने स्कूल बंद रखने का निर्णय लिया। 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment