मानव तस्करी और आइटी एक्ट में फरार अखबार मालिक पर दस हजार का इनाम

Publish Date:Mon, 02 Dec 2019 10:45 PM (IST)

इंदौर, जेएनएन। मध्य प्रदेश के बहुचर्चित हनीट्रैप मामले के वीडियो-ऑडियो प्रसारित होने के बाद निशाने पर आए इंदौर के एक अखबार मालिक जीतू सोनी पर पुलिस ने 10 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया है। सोनी के विरुद्ध मानव तस्करी और आइटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज हैं। पुलिस ने सोमवार को भी उनके होटल-घर और ऑफिस में छापे मारे। पलासिया पुलिस ने उनके होटल ‘माय होम के मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस ने होटल माय होम में मारा छापा
एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र के अनुसार, शनिवार देर रात निलंबित इंजीनियर हरभजनसिंह की शिकायत पर एमआइजी थाने में जीतू सोनी के खिलाफ आइटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था। इसके बाद सर्च वारंट जारी करवाकर पुलिस और प्रशासन की टीम ने गीता भवन चौराहे के पास स्थित उनके होटल माय होम में छापा मारा। यहां बंगाल और असम की 67 महिलाएं व लड़कियां मिलीं। पुलिस ने पलासिया थाने में मानव तस्करी का केस दर्ज किया । दबिश के आधा घंटा पूर्व सोनी होटल से फरार हो गया। पुलिस ने सोमवार को उनकी गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया। उनकी तलाश में एएसपी (ग्रामीण) धर्मराज मीणा और एसडीओपी विनोद शर्मा की टीम गठित की है। एक टीम को मुंबई भी रवाना की गई है।

सोनी के बेटे को रिमांड पर लिया
पलासिया थाने में दर्ज मानव तस्करी के प्रकरण में जीतू सोनी का पुत्र अमित सोनी भी आरोपित है। पुलिस सोमवार दोपहर अमित को ऑफिस लेकर पहुंची और तिजोरियों के ताले तोड़े। उनमें क्या मिला, इसका अभी तक राजफाश नहीं किया है। कार्रवाई के बाद अमित को जिला कोर्ट में पेश कर छह दिसंबर तक रिमांड पर ले लिया।
समूह में कार्यरत कर्मचारियों ने पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिस बदले की भावना से कार्रवाई कर रही है। शाम को साइबर सेल और क्राइम ब्रांच की टीम ऑफिस में घुसी और कम्प्यूटर व लाइब्रेरी की छानबीन की। अधिकारी हनी ट्रैप मामले से जुड़ी सामग्री तलाशना चाहते थे। कार्रवाई के दौरान स्टाफ को बाहर निकाल दिया। दो दिन से अखबार का कार्यालय पुलिस के कब्जे में ही है। हालांकि, एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र के अनुसार पुलिस ने सिर्फ सोनी का चैम्बर सील किया है।
Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment