राज्यसभा से SPG संशोधन बिल पास, कांग्रेस ने किया वॉकआउट 

नई दिल्ली: लोकसभा के बाद अब राज्यसभा से एसपीजी अधिनियम संशोधन बिल पास हो गया है। गृहमंत्री अमित शाह ने साफ किया कि यह संशोधन राजनीतिक प्रतिशोध के चलते किसी परिवार को ध्यान में रखकर नहीं बनाया गया है बल्कि इससे प्रधानमंत्री सुरक्षा को मजबूत बनाने में मदद मिलेगी। राज्यसभा ने विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) अधिनियम संशोधन विधेयक को चर्चा के बाद ध्वनिमत से मंजूरी दी। इस दौरान कांग्रेस, वाम और डीएमके के सदस्यों ने सदन से वॉकआउट किया। राज्यसभा में विधेयक पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस सहित विपक्षी सदस्यों की उन चिंताओं को बेबुनियाद बताया जिसमें कहा गया था कि गांधी परिवार की सुरक्षा के संबंध में राजनीति के तहत काम किया गया है।

#BreakingNews : राज्य सभा में बहुमत से पास हुआ #SPG संसोधन बिल 2019. कांग्रेस ने किया वाकआउट. #SPGsecurity pic.twitter.com/uk0p9fKr2y
— HW News Hindi (@hwnewsnetwork) December 3, 2019

गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में एसपीजी संशोधन बिल पर बयान दिया। शाह ने कहा कि इस बिल में हमने पांचवां संशोधन किया है और यह परिवर्तन गांधी परिवार को ध्यान में रखते हुए नहीं किए गए। हां, इससे पहले जो 4 संशोधन किए गए थे…वह बेशक एक परिवार को ध्यान में रखकर ही किए गए थे।
जानकारी के लिए आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पिछले महीने गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा वापस लेने का फैसला किया था। अब सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की सुरक्षा व्यवस्था सीआरपीएफ को सौंपी गई है।
शाह ने कहा- सुरक्षा को स्टेटस सिंबल नहीं बनाया जा सकता है। केवल एसपीजी की ही मांग क्यों? एसपीजी सुरक्षा घेरा केवल राष्ट्र के मुखिया के लिए है, हम इसे हर किसी को नहीं दे सकते हैं। हम किसी एक परिवार के खिलाफ नहीं है, लेकिन हम वंशवाद की राजनीति के खिलाफ हैं।
यह भी पढ़ें: प्रियंका की सुरक्षा में सेंध, लोकसभा में कांग्रेस सांसद ने उठाया मुद्दा
इससे पहले लोकसभा में बिल पेश करने पर शाह ने कहा था- बिल को पेश करने का मकसद इसे बेहतर करना है। एसपीजी सुरक्षा कवर केवल प्रधानमंत्री और उनके साथ प्रधानमंत्री आवास में आधिकारिक तौर पर रह रहे परिजन को ही मिलेगा। इसके अलावा एसपीजी सुरक्षा पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिजन को दी जाएगी, जो आधिकारिक तौर पर सरकार द्वारा अलॉट किए गए आवास में रह रहे हैं।
कुछ लोग प्रियंका के घर में बिना अनुमति दाखिल हुए थे
एक हफ्ते पहले प्रियंका के घर में कुछ लोगों ने बिना दाखिल हो गए थे। इन लोगों ने प्रियंका के साथ सेल्फी लेने की कोशिश भी की। इस मामले में जांच के लिए सीआरपीएफ से शिकायत की गई और सुरक्षा टीम को भी बदल दिया गया। प्रियंका के पति रॉबर्ट वाड्रा ने मंगलवार को कहा- ये बहुत बड़ी चूक है। केंद्र सरकार को गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा बिलकुल नहीं हटाना चाहिए थी। केंद्र सरकार जो चाहती है, वो करती है। यह सिर्फ पॉलिटिकल एजेंडा है।
[embedded content]

Source: HW News

Related posts