प्रियंका की सुरक्षा में सेंध, लोकसभा में कांग्रेस सांसद ने उठाया मुद्दा 

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के सुरक्षा में कथित तौर पर सेंध लगने के खबर को जहां एक तरफ राजनीति गर्म है. वहीं दूसरी तरफ आज यह मुद्दा कांग्रेस नेता ने लोकसभा में भी उठाया. दरअसल शून्यकाल के दौरान कांग्रेस के एंटो एंटनी ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी की सुरक्षा में सेंध लगने का मामला सामने आया है। सरकार ने जब एसपीजी सुरक्षा कवर हटाने की बात की थी तब कहा था कि सीआरपीएफ की पुख्ता सुरक्षा दी गई है लेकिन फिर ऐसी स्थिति कैसे उत्पन्न हुई। उन्होंने सवाल किया कि सात लोग किस प्रकार से प्रियंका गांधी के आवास में प्रवेश कर गए।

एंटनी ने कहा कि जिस परिवार ने दो प्रधानमंत्री खोये, उस परिवार की सुरक्षा में कोताही ठीक नहीं है। गांधी परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग करते हुए कांग्रेस नेता ने सरकार से कहा कि इस विषय पर राजनीति नहीं करें। सूत्रों ने सोमवार को बताया था कि पिछले सप्ताह कुछ लोग बिना अनुमति के एक गाड़ी से प्रियंका के लोधी एस्टेट स्थित आवास में घुस आए थे। ये लोग प्रियंका के साथ सेल्फी खिंचाने को कह रहे थे।
यह भी पढ़ें: संसद में बढ़ते प्याज के कीमत, महिला सुरक्षा सहित इन मुद्दों पर हुआ हंगामा
रॉबर्ट वाड्रा ने उठाए सवाल
उधर, प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा ने मंगलवार को दावा किया कि मौजूदा समय में पूरे देश की सुरक्षा से समझौता किया जा रहा है. उन्होंने फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘यह मामला सिर्फ प्रियंका, मेरी बेटी या बेटे, मेरे या गांधी परिवार की सुरक्षा का नहीं है. यह हमारे नागरिकों, विशेष रूप से हमारे देश की महिलाओं को सुरक्षित रखने और सुरक्षित महसूस कराने का है. पूरे देश में सुरक्षा के साथ समझौता किया जा रहा है.’
वाड्रा ने यह भी कहा, ‘‘लड़कियों के साथ छेड़छाड़/ दुष्कर्म हो रहा है, हम किस तरह का समाज बना रहे हैं? हर नागरिक की सुरक्षा सरकार की जिम्मेदारी है.’ उन्होंने सवाल किया, ‘ अगर हम अपने देश और घर में सुरक्षित नहीं हैं, सड़कों पर सुरक्षित नहीं हैं, दिन या रात में सुरक्षित नहीं हैं तो हम कहां और किस तरह से सुरक्षित रह सकते हैं?’
गौरतलब है कि सोमवार को सूत्रों ने बताया कि पिछले सप्ताह कुछ लोग अनुमति लिए बिना एक गाड़ी से प्रियंका के लोधी एस्टेट स्थित आवास में घुस आए. ये लोग प्रियंका के साथ सेल्फी लेने को कह रहे थे. सूत्रों का कहना है कि प्रियंका के कार्यालय ने इस मामले को सीआरपीएफ के समक्ष उठाया है.
[embedded content]

Source: HW News

Related posts