गाजियाबाद: 2 बच्चों की हत्या कर पत्नी और सहकर्मी के साथ 8वीं मंजिल से कूदा शख्स

इंदिरापुरम: दिल्ली से सटे गाजियाबाद के इंदिरापुरम से एक दर्दनाक खबर सामने आई है। यहां मंगलवार तड़के माता-पिता ने दो बच्चों की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद कारोबारी ने पत्नी और साथी कर्मचारी के साथ अपार्टमेंट की 8वीं मंजिल से छलांग लगाकर खुदकुशी कर ली। साथ ही फ्लैट के कमरे से सुसाइड नोट मिला, जिसमें कारोबारी ने आर्थिक तंगी का जिक्र किया है। साथ ही दीवार पर 500 के नोट और बाउंस चेक चिपके मिले। दंपति ने लिखा है कि इन रुपयों का इस्तेमाल पांचों शवों का साथ अंतिम संस्कार करने में किया जाए।

Sudhir Kumar Singh, Ghaziabad SSP: The injured woman has also succumbed to her injuries. They wrote a suicide note on a wall. Prima facie it appears to be due to financial reasons. Investigation underway. https://t.co/UH2r5caVAy pic.twitter.com/Qy2sXj6OKh
— ANI UP (@ANINewsUP) December 3, 2019

क्या है पूरा मामला?
पूरा मामला गाजियाबाद के थाना इंदिरापुरम इलाके के वैभव खंड स्थित कृष्णा सफायर सोसाइटी की आखिरी मंजिल पर बने फ्लैट नंबर ए-806 का है। जिसमें गुलशन वासुदेवन अपनी पत्नी परवीन और 2 बच्चों के साथ रहते थे। इस सुसाइड केस में गुलशन की एक साथी कर्मचारी महिला संजना भी शामिल है। जो मृतक गुलशन वासुदेवन के यहां बतौर मैनेजर काम करती थी। जो वारदात की रात में 9 बजे फ्लैट पर पहुंची थी। दो बच्चे रितिक(11) और रितिका (12) समेत घर में कुल 5 सदस्य मौजूद थे। मंगलवार की अलसुबह घर के मुखिया गुलशन और उसकी पत्नी परवीन और साथी कर्मचारी संजना के द्वारा आठवीं मंजिल से छलांग लगाई गई। जिसमें गुलशन वासुदेव और परवीना की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि संजना जो साथी कर्मचारी बतायी जा रही उसको गंभीर हालात में अस्पताल भेजा गया जहां उसकी भी मौत हो गयी।

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जैसे ही घटना की जांच के लिए आठवीं मंजिल पर स्थित उनके फ्लैट को खोल कर देखा तो पुलिस के भी होश उड़ गए। क्योंकि घर के अंदर एक लड़की और एक लड़के की लाश भी बेड पर पड़ी हुई थी। इतना ही नहीं घर में एक खरगोश भी पाला हुआ था जो मृत पाया गया। कमरे की दीवार पर एक सुसाइड नोट भी लिखा हुआ था जिसमें पूरे परिवार की आत्महत्या किए जाने का कारण आर्थिक तंगी और करीबी रिश्तेदार राकेश वर्मा (मृतक का साढू) पर 2 करोड़ रुपये का बताया गया है। अब पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।
सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी बताया कारण
सुसाइड नोट में सुसाइड करने का कारण आर्थिक तंगी और कुछ लोगों पर बड़ी रकम का बकाया होना बताया गया है। सुसाइड नोट में मृतक ने साढू राकेश वर्मा को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस के अनुसार राकेश वर्मा के पास गुलशन वासुदेव के तकरीबन डेढ़ से 2 करोड़ रुपये बकाया थे। पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि गुलशन की जींस की फैक्ट्री थी जिसमें उसे घाटा हो गया था। इन दिनों वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। उसकी एक बड़ी रकम अपने रिश्तेदार के पास फंस गयी थी और राकेश के दिये चेक बाउंस भी हो गये थे। जिसकी वजह से रकम उसे वापस नहीं मिल पा रही थी। जिसकी वजह से ही उन्होंने ये खौफनाक कदम उठाया। 
[embedded content]

Source: HW News

Related posts