भाजपा विधायक का दावा, येदियुरप्पा को CM पद से हटाने का रचा जा रहा षड्यंत्र

कर्नाटक (Karnataka) से बीजेपी MLA बी. पाटिल यत्नाल ने सीएम येदियुरप्पा के खिलाफ षड्यंत्र किए जाने का दावा किया है (फाइल फोटो0

कर्नाटक (Karnataka) से बीजेपी MLA बी. पाटिल यत्नाल ने दावा किया है कि वहां पर मुख्यमंत्री येदियुरप्पा (CM Yediyurappa) को पद से हटाए जाने के लिए षड्यंत्र (Conspiracy) रचा जा रहा है.

Share this:

बेंगलुरु. भाजपा विधायक (BJP MLA) बी पाटिल यत्नाल (B. Patil Yatnal) ने बुधवार को कहा कि कुछ लोग कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) को मुख्यमंत्री (CM) पद से हटाने का षड्यंत्र रच रहे हैं.गौरतलब है कि बी पाटिल यत्नाल पूर्व में दिए अपने बयानों के लिए पार्टी के गुस्से का सामना कर रहे हैं. यत्नाल ने किसी का नाम लिए बिना कहा, “आप इसी तरह केंद्र से बाढ़ राहत (Flood Relief) के लिए सहायता लेने में एक महीने और देर कीजिये, और एक दिन येदियुरप्पा को पद से हटा दीजिये, यही आपका षड्यंत्र (Conspiracy) है.”अटल बिहारी सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं यत्नालबी पाटिल यत्नाल विजयपुरा से विधायक हैं और अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र में कुछ लोग षड्यंत्रकारियों से मिले हुए हैं. उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि यदि वह 77 वर्षीय येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री नहीं देखना चाहता तो उन्हें बता देना चाहिए लेकिन इसकी बजाय बाढ़ राहत सहायता राशि (Flood Relief Assistance) देने में देर की जा रही है और येदियुरप्पा के विरोधियों के हाथ मजबूत किये जा रहे हैं.मंत्रियों के ऊपर लगाया पार्टी हाईकमान के सामने बयान गलत ढंग से पेश करने का आरोपविजयपुरा में उन्होंने संवाददताओं से कहा, “आप येदियुरप्पा और उनके विरोधियों दोनों को बुलाइये. आपके (केंद्र सरकार) पास दोनों को सबक सिखाने की क्षमता है.” उन्होंने कहा, “पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को प्रधानमंत्री से मिलने का समय मिल जाता है लेकिन येदियुरप्पा को नहीं मिलता. इससे क्या संदेश जाता है?”कर्नाटक के भाजपा सांसदों को आड़े हाथों लेते हुए यत्नाल ने कहा कि भाषणों से कुछ नहीं होता क्योंकि बाढ़ पीड़ित लोग भाषण नहीं सुनते. उन्होंने दो केंद्रीय मंत्रियों (सदानंद गौड़ा और प्रह्लाद जोशी) का नाम लिए बिना कहा कि मंत्रियों ने उनके बयानों को पार्टी हाईकमान के सामने गलत तरीके से पेश किया.Loading… यत्नाल से 10 दिनों के भीतर मांगा गया था जवाबबी पाटिल यत्नाल (B. Patil Yatnal) ने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda) तक अपनी यह बात पहुंचाना चाहते हैं कि वह पार्टी के खिलाफ नहीं बल्कि हित में काम कर रहे हैं.गौरतलब है कि यत्नाल को पार्टी हाईकमान द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ बयान देने के लिए 4 अक्टूबर को नोटिस जारी कर दस दिनों के भीतर जवाब देने को कहा गया था.एक अक्टूबर को यत्नाल ने कहा था कि प्रधानमंत्री बिहार (Bihar) के बाढ़ पीड़ितों के लिए ट्वीट करते हैं लेकिन कर्नाटक (Karnataka) के बाढ़ ग्रसित इलाकों के लिए नहीं, इससे यह संदेश जाता है कि उन्हें कर्नाटक के लोगों की चिंता नहीं है क्योंकि यहां अभी चुनाव नहीं होने वाला.यह भी पढ़ें: कांग्रेस का हाल ऐसा कि गिरे तो गिरे, मेरी टांग तो ऊपर है: ओवैसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 7:01 PM IST

Loading…

Source: News18 News

Related posts