2 दिन बाद से बढ़ेगी इस प्रोडक्ट की डिमांड, हर महीने होगी 50000 की कमाई!

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) में देश की जनता से 2 अक्टूबर को गांधी जयंती (Gandhi Jayanti) के अवसर पर सिंगल यूज प्लास्टिक (Single Use Plastic Ban) का इस्तेमाल न करने की सलाह दी है. पीएम मोदी ने देशवासियों से आग्रह किया कि दो अक्टूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ देशव्यापी अभियान का हिस्सा बनें. पीएम मोदी के इस कदम से जहां प्लास्टिक से बने कप (Plastic Cup) पर रोक लगेगी, वहीं दूसरी ओर बिजनेस के नए अवसर पैदा होंगे. ऐसे में आपके पास बिजनेस का नया मौका होगा. आज हम आपको बता रहे हैं सरकार की मदद से आप शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस. जानें इस बिजनेस के बारे में सबकुछ…सिंगल यूज प्लास्टिक के बंद होने के बाद पेपर कप चाय पीने से लेकर लस्‍सी और कोल ड्रिंक जैसी चीजों के लिए पेपर कप की डिमांड और बढ़ जाएगी. ऐसे में अगर आप पेपर कप मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस शुरू करते हैं तो यह आपके लिए कहीं से भी घाटे का सौदा साबित नहीं होगा. पेपर कप मेकिंग बिजनेस के जरिए आप महीने में 60 हजार रुपये तक की कमाई कर सकते हैं. इस जानते हैं इस बिजनेस से जुड़े सभी पहलुओं के बारे में….ये भी पढ़ें: आपके पास है आधार तो महीने में बुक कर सकते हैं 10 से ज्यादा ट्रेन टिकट!कितना करना होगा निवेश?अगर आप इस बिजनेस को छोटे रूप में शुरू करना चाहते हैं, तो 1 से 1.50 लाख में शुरू हो जाता है. इसके तहत आप 90 से लेकर 200 एमएल तक की ग्‍लास और कप का प्रोडक्‍शन कर सकते हैं. इस काम में छोटी-बड़ी तथा ऑटोमैटिक-सेमी ऑटोमैटिक कई तरह की मशीनों का यूज अपनी लागत के हिसाब से कर सकते हैं. छोटी मशीनें जहां एक ही साइज के कप तैयार करती हैं, वहीं बड़ी मशीन हर आकार के ग्‍लास/कप तैयार करती है. 1 से 2 लाख रुपए में आपको सिर्फ एक साइज के कप/ग्‍लास तैयार करने वाली मशीन मिल जाएगी, जिसकी मदद से आप प्रोडक्‍शन कर सकते हैं. हालांकि आप हर साइज के कप और ग्‍लास को प्रोडक्‍शन करना चाहते हैं तो आपको 10 से 12 लाख रुपए की पूंजी की जरूरत पड़ती है.कितना करना होगा निवेश?Loading… अगर आप इस बिजनेस को छोटे रूप में शुरू करना चाहते हैं, तो एक से डेढ़ लाख में शुरू हो जाता है. इसके तहत आप 90 से लेकर 200 एमएल तक की ग्‍लास और कप का प्रोडक्‍शन कर सकते हैं. इस काम में छोटी-बड़ी तथा ऑटोमैटिक-सेमी ऑटोमैटिक कई तरह की मशीनों का यूज अपनी लागत के हिसाब से कर सकते हैं. छोटी मशीनें जहां एक ही साइज के कप तैयार करती हैं, वहीं बड़ी मशीन हर आकार के ग्‍लास/कप तैयार करती है. 1 से 2 लाख रुपए में आपको सिर्फ एक साइज के कप/ग्‍लास तैयार करने वाली मशीन मिल जाएगी, जिसकी मदद से आप प्रोडक्‍शन कर सकते हैं. हालांकि आप हर साइज के कप और ग्‍लास को प्रोडक्‍शन करना चाहते हैं तो आपको 10 से 12 लाख रुपए की पूंजी की जरूरत पड़ती है.बिजनेस शुरू करने की जरूरी चीजेंमशीनरी, पेपर कप फ्रेमिंग मशीन- 5 लाख रुपए से शुरू करें, ऑफिस इक्विपमेंट में 50 हजार के करीब का खर्च आएगा. रॉ मैटेरियल कप बनाने के लिए आपको पेपर रील चाहिए होगी जो 90 रुपए किलोग्राम आती है. इसके साथ ही आपको बॉटम रील चाहिए होगी जो 78 रुपए किलोग्राम खरीदी जा सकती है.ये भी पढ़ें: PAN कार्ड और Aadhaar को लिंक करने की नई तारीख का हुआ ऐलान!कहां मिलेगी मशीन?कागज के कप बनाने की मशीन दिल्ली, हैदराबाद, आगरा एवं अहमदाबाद समेत कई शहरों में मिलती है. इस तरह की मशीनें तैयार करने काम इंजीनियरिंग वर्क करने वाली कंपनियां करती हैं. इसके अलावा आप इंडिया मार्ट की वेबसाइट पर जानकार भी सीधा इन मशीनों के सेलर्स से संपर्क कर सकते हैं. आप यहां से पेपर कप बनाने वाले जरूरी रॉ मैटेरियल भी खरीद सकते हैं.कैसे होगी कमाई?फैक्‍ट्री एक मिनट में करीब 50 कप तैयार करती है. रोजाना 2 शिफ्ट में काम होता है तो महीने में यहां 15,60,000 कप तैयार होंगे. अगर आप इसे 30 पैसे प्रति कम के हिसाब से बेचते हैं तो आपको करीब 4,68,000 की इनकम होगी. अगर इसमें से 408,964 रुपए की लागत घटा दी जाए तो करीब 59,036 रुपए यानी राउंड फिगर में करीब 60 हजार रुपए की कमाई होगी.कैसे कराएं रजिस्‍ट्रेशन?अगर आप स्मॉल स्केल पर पेपर कप बनाकर खुद ही मार्केट में बेचना चाहते हैं तो आप घर पर ही छोटी मशीन लगाकर शुरू कर सकते हैं. हालांकि अगर आपको बड़े लेवल पर कारोबार शुरू करना है तो आपको अपने बिजनेस को एमएसएमई के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन या उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. साथ ही ट्रेड लाइसेंस, फर्म का चालू खाता, पैन कार्ड आदि की भी जरूरत पड़ेगी. उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन होने पर आप पेपर कम मैन्युफैक्चरिंग उद्योग के लिए मुद्रा लोन भी हासिल कर सकते हैं.ये भी पढ़ें: SBI ग्राहकों को तोहफा! 1 अक्टूबर से 8.15% ब्याज दर पर मिलेगा होम लोन
Source: News18 Money.com

Related posts

Leave a Comment