कर्नाटक: CM कुमारस्वामी का ऐलान- मैं फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार

नई दिल्ली: तमाम सियासी हलचल के बीच कर्नाटक विधानसभा का सत्र शुक्रवार को शुरू हो गया. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने विधानसभा में स्पीकर से अपना बहुमत साबित करने वक्त मांगा है. कुमारस्वामी ने विधानसभा में अध्यक्ष से कहा कि विश्वास मत कराने का फैसला लिया है, कृपया इसके लिए समय तय करें. उन्होंने कहा कि मैं हर चीज के लिए तैयार हूं, सत्ता से चिपकने के लिए यहां नहीं हूं.  उन्होंने कहा कि वह फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार हैं.

Karnataka CM HD Kumaraswamy in Vidhana Soudha in Bengaluru: After all these developments, I am seeking your permission & time to prove the majority in this session. #Karnataka pic.twitter.com/olx8BZ90Xx
— ANI (@ANI) July 12, 2019

वहीं शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किया है कि कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर अगले मंगलवार तक कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायकों के इस्तीफे पर कोई फैसला नहीं लेंगे. इसके अलावा स्पीकर विधायकों की अयोग्यता पर भी कोई फैसला नहीं ले पाएंगे. मामले की अगली सुनवाई मंगलवार को ही होगी.

एक लंबी बहस के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार को ये आदेश सुनाया.  स्पीकर की तरफ से पेश हुए कोर्ट में पेश अभिषेक मनु सिंघवी की तरफ से अदालत को बताया गया है कि सभी बागी विधायकों ने वीडियो में ये स्वीकार किया है कि उन्होंने स्पीकर को मिलकर इस्तीफा नहीं सौंपा है. सिंघवी की तरफ से अदालत को स्पीकर रमेश कुमार का हलफनामा और विधायकों का वीडियो दे दिया गया है. विधायकों ने ये भी स्वीकार किया है कि जब स्पीकर अपने दफ्तर से जा चुके थे, तब वो लोग इस्तीफे के बाद बात करने पहुंचे थे.
सभी पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने व्‍यवस्‍था देते हुए कहा कि मौजूदा हालात के मद्देनजर पर ‘Status Quo’ यानी यथास्थिति बरकरार रखी जाए. यानी स्पीकर न तो बागी विधायकों के इस्तीफे पर फैसला लेंगे और न ही अयोग्यता के मसले पर. 16 जुलाई को इस मामले में अगली सुनवाई होगी और कोर्ट संवैधानिक मुद्दों पर विचार करेगा.
[embedded content]
Source: HW News

Related posts