कांग्रेस में इस्तीफे का दौर जारी, सांसद बाजवा ने भी छोड़ा पद

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली हार के बाद पार्टी नेताओं द्वारा अपने पदों से इस्तीफे देने का दौर थमा नहीं है. पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान और राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा ने भी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की विदेश मामलों संबंधी समिति के उप प्रधान पद से इस्तीफा दे दिया.

Congress Rajya Sabha MP Pratap Singh Bajwa: Whatever decision Rahul Gandhi will take to improve Congress’ image, we are with him. I feel all the senior leaders, whether they are Congress working committee members or present Chief Ministers or state presidents, they should resign. pic.twitter.com/f3A8RCnlwl
— ANI (@ANI) June 30, 2019

बाजवा ने अपना इस्तीफा पार्टी के महासचिव केसी वेणुगोपाल को भेजते हुए लिखा है, जिसमें उन्होंने कहा,
“राहुल गांधी ने इस्तीफा देते हुए अन्य नेताओं के लिए जवाबदेही का एक उदाहरण स्थापित किया है.”

UP Congress’s senior vice president Ranjit Singh Judev, general secretary Aradhna Mishra Mona, vice president RP Tripathi and 10 other leaders have resigned from the party taking moral responsibility for the party’s defeat in Lok Sabha elections. pic.twitter.com/eTlYgiLrUO
— ANI UP (@ANINewsUP) June 29, 2019

इसी के साथ बाजवा ने पत्र में निवेदन करते हुए लिखा कि कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों सहित कई वरिष्ठ पदाधिकारी, राज्य प्रमुखों और सभी मुख्यमंत्रियों को इसी नियम का पालन करना चाहिए और इस्तीफा देना चाहिए.
हालांकि बाजवा ने कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी से पद पर बने रहने की भी अपील की है.
उन्होंने लिखा
“राहुल जी से निवेदन करता हूं कि वे एक बार फिर से कार्यभार संभालें और एक ऐसा संगठन बनाएं जो सभी सामंती और अंतर वैयक्तिक प्रतिद्वंद्वियों से मुक्त हो.”
मालूम हो कि शनिवार को कांग्रेस पार्टी के अन्य नेताओं ने भी इस्तीफा दिया है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष रंजीत सिंह जूदेव, महासचिव आराधना मिश्रा मोना, उपाध्यक्ष आरपी त्रिपाठी और 10 अन्य नेताओं ने लोकसभा चुनावों में पार्टी की हार के लिए नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया है.
[embedded content]
Source: HW News

Related posts