राज की राह पर ममता, बोली बंगाल में हो तो बंगाली आनी चाहिए

लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही बंगाल में बवाल जारी है, चाहे फिर वो जय श्री राम के नारे को लेकर हो या फिर दोनों दलों के कार्यकर्ताओं और हत्या को लेकर आरोप- प्रत्यारोप के बीच वहां राजनीतिक हिंसा हो रही है।
ममता बनर्जी का कहना है कि बीजेपी बाहर से गुंडों को लाकर राज्य में माहौल खराब कर रही है। लेकिन वो इस तरह कि किसी भी हरकत को बर्दाश्त नहीं करेंगी। इसके साथ ही उन्होंने भाषा के मुद्दे पर भी विवादित बयान दिया। सवाल ये है कि क्या ममता बनर्जी हताश हो चुकी हैं या ताजा हालात से ध्यान भटकाने के लिए बयान इस तरह का बयान दे रही हैं।
ममता बनर्जी का कहना है कि हमें बांग्ला को आगे बढ़ाने के लिए आगे आना होगा। जब मैं बिहार, यूपी, पंजाब जाती हूं तो वहां की भाषा बोलती हूं। यदि आप बंगाल में हैं तो आपको बांग्ला बोलना होगा। यही नहीं वो ऐसे किसी भी अपराधी को सहन नहीं करेंगी जो बंगाल में रहता है और बाइक के जरिए इधर उधर घूम कर अपराध करता है।
बता दें कि पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से ममता बनर्जी खफा हैं। उन्होंने गुरुवार को कहा था कि अगर चार घंटे के अंदर डॉक्टर हड़ताल खत्म नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
Source: HW News

Related posts