जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का औपचारिक अनुरोध किया भारत ने

Publish Date:Wed, 12 Jun 2019 10:30 PM (IST)

 नई दिल्ली, प्रेट्र। भारत ने मलेशिया से इस्लाम धर्म के प्रचारक जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का औपचारिक अनुरोध किया है। नई दिल्ली ने कहा है कि वह कुआलालंपुर से इस्लाम प्रचारक को प्रत्यर्पित करने का अनुरोध करना जारी रखेगा। दो दिन पहले मलेशिया के प्रधानमंत्री ने कहा था कि उनके देश के पास नाइक को प्रत्यर्पित नहीं करने का अधिकार है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भगोड़े प्रचारक का दावा है कि उसे अपने देश में निष्पक्ष न्याय नहीं मिलेगा।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने जोर देकर कहा कि भारतीय न्याय प्रणाली की निष्पक्षता पर कभी सवाल नहीं उठाया गया। प्रवक्ता ने कहा, ‘कई देशों के साथ भारत की प्रत्यर्पण व्यवस्था है। पूर्व में भारत को प्रत्यर्पण किए जाने के कई मामले सफल रहे हैं। भारतीय न्याय प्रणाली की निष्पक्षता पर कभी सवाल नहीं उठाया गया। भारत ने जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का औपचारिक अनुरोध किया है। हम मलेशिया के सामने इस मुद्दे पर अनुरोध जारी रखेंगे।’
53 वर्षीय नाइक 2016 में भारत से फरार हो गया और बाद में वह मलेशिया पहुंच गया। कथित रूप से कुआलालंपुर ने उसे स्थायी निवास की मंजूरी दे दी है। मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मुहम्मद ने सोमवार को कहा था कि उनके देश के पास नाइक को प्रत्यर्पित नहीं करने का अधिकार है। जाकिर का मानना है कि उसे भारत में निष्पक्ष न्याय नहीं मिलेगा। मलेशियाई नेता ने इस स्थिति की तुलना आस्ट्रेलिया द्वारा पूर्व पुलिस कमांडो सिरुल अजहर उमर का प्रत्यर्पण ठुकराने से की। मंगोलियाई माडल की हत्या करने के मामले में 2015 में पूर्व पुलिस कमांडो को मलेशिया में फांसी की सजा सुनाई गई थी।

नाइक के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने 2016 में राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा दर्ज एफआइआर के आधार पर मामला दर्ज किया था। प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले महीने कहा था कि नाइक ने अज्ञात शुभ चिंतकों से अपने और अपने ट्रस्ट के खाते में करोड़ों रुपये हासिल किए थे। उसके भाषण घृणा फैलाने वाले होते थे और मुस्लिम युवकों को आतंकवाद की ओर प्रेरित करते थे।
लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप
Posted By: Sanjeev Tiwari

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment