ओवैसी के भाई की रीड़ की हड्डी में फंसी एक गोली नहीं बनने देती ये जरूरी तत्व

रीढ़ की हड्डी के पास फंसी है गोली मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अकबरुद्दीन ओवैसी पर 30 अप्रैल 2011 को हैदराबाद के बरक्स इलाके में एक हमला हुआ था। उनके ऊपर गोलियां चलाई गईं और चाकू से भी वार किया गया। अकबरुद्दीन ओवैसी को इस हमले में तीन गोलियां लगीं और वो बुरी तरह घायल हो गए। डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर उनके शरीर से गोलियां निकालीं, लेकिन एक गोली उनकी रीढ़ की हड्डी के पास फंसी रह गई। यह गोली अभी भी फंसी हुई है। इस गोली की वजह से अकबरुद्दीन ओवैसी के शरीर में आयरन नहीं बन पाता है और उन्हें इलाज के लिए हर साल लंदन जाना होता है। बताया जा रहा है कि ओवैसी इस वक्त भी अपनी इसी समस्या के लिए लंदन गए हुए हैं, जहां उनका इलाज चल रहा है। इसी की वजह से उन्हें उल्टी और पेट दर्द की भी शिकायत हुई। ये भी पढ़ें- कठुआ गैंगरेप केस में फैसला आने के बाद क्या बोले असदुद्दीन ओवैसी बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं ओवैसी गौरतलब है कि अकबरुद्दीन ओवैसी हैदराबाद की चंद्रायणगुट्टा विधानसभा सीट से पांचवी बार विधायक चुने गए हैं। अकबरुद्दीन ओवैसी अपने विवादित बयानों को लेकर भी सुर्खियों में रहते हैं। तेलंगाना विधानसभा चुनावों में प्रचार के दौरान यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक रैली में कहा था कि अगर यहां भाजपा जीती तो ओवैसी को हैदराबाद छोड़कर भागना पड़ेगा। इसके बाद अकबरुद्दीन ओवैसी ने पलटवार करते हुए पीएम मोदी को लेकर विवादित बयान दिया था। अकबरुद्दीन ओवैसी हैदराबाद में ओवैसी अस्पताल के प्रबंध निदेशक हैं। इस अस्पताल को मुसलमानों के कल्याण के लिए अपने स्वर्गीय पिता सुल्तान सलाहुद्दीन ओवैसी की याद में उन्होंने स्थापित किया था। विपक्ष के नेता पद पर ओवैसी की दावेदारी 2018 के विधानसभा चुनावो में अकबरुद्दीन ओवैसी के सामने कांग्रेस ने पहलवान ईसा बिन ओवेद मिसरी को चुनाव मैदान में उतारा था। हालांकि ‘मिस्टर यूनिवर्स चैलेंज’ में सिल्वर मेडल जीत चुके और रेसलिंग की दुनिया से सियासी रिंग में कदम रखने वाले ईसा बिन ओवेद मिसरी को हार का सामना करना पड़ा। हाल ही में तेलंगाना में कांग्रेस के 12 विधायकों के टीआरएस में शामिल हो जाने के बाद एआईएमआईएम खुद को विधानसभा में विपक्ष का नेता बनाए जाने की मांग कर रही है। तेलंगाना में एआईएमआईएम के 7 विधायक हैं और नेता प्रतिपक्ष के दावे के लिए पार्टी ने दिल्ली विधानसभा का हवाला दिया है, जहां बीजेपी के विजेंदर गुप्ता को यह दर्जा प्राप्त है। फिलहाल अकबरुद्दीन सदन में अपनी पार्टी के विधायक दल के नेता हैं। असदुद्दीन ओवैसी ने की समर्थकों से अपील आपको बता दें कि हाल ही में ईद के मौक पर अपने समर्थकों के सामने असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘मैं आप सभी लोगों को ईद की दिली मुबारकबाद देता हूं। ईद के इस मौके पर मैं आप लोगों से ये भी गुजारिश करता हूं कि आप सभी मेरे छोटे भाई अकबरुद्दीन ओवैसी की सलामती के लिए दुआ करें। वो इलाज के लिए लंदन गए हुए हैं और मुझे जानकारी मिली है कि उनकी तबीयत फिर से बिगड़ गई है। मैं अल्लाह से दुआ करता हूं कि वो उन्हें जल्द ठीक करे।’ वहीं, मंगलवार को आंध्र प्रदेश के सीएम और वाईएसआर कांग्रेस के प्रमुख जगन मोहन रेड्डी ने भी ट्वीट करते हुए लिखा, ‘अकबरुद्दीन ओवैसी के जल्दी ठीक होने और उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं।’ ये भी पढ़ें- ‘जब तक एक लाख युवा 5 बच्चे पैदा करने की शपथ नहीं लेते, आमरण अनशन नहीं तोड़ूंगा’
Source: OneIndia Hindi

Related posts