मोदी के खिलाफ केजरीवाल जैसा उम्मीदवार नहीं, चौपट हो रहा कारोबारियों का धंधा

2014 के चुनावी रण में नरेंद्र मोदी और केजरीवाल के होने से वाराणसी हाउसफुल रहा था. उन दिनों चुनाव के वक्त लोग गंगा नहाने, दर्शन-पूजन और कुछ कारोबार के बहाने भी वाराणसी पहुंचे थे. जिससे करीब दो महीने तक वाराणसी हाउसफुल रहा था. जिससे रेस्‍ट्रॉन्ट मालिकों को तो छोड़िए, सड़क किनारे कचौड़ी-जलेबी, बाटी-चोखा, सत्तू लस्‍सी और इडली-डोसा या लाई-चना बेचने वाले तक मालामाल हो गए थे. (फाइल फोटो)
Source: News18 News

Related posts