PUBG Mobile Game Ban: इन जगहों पर बैन हुआ ये पॉपुलर बैटल रॉयल गेम

Publish Date:Tue, 16 Apr 2019 08:34 AM (IST)

नई दिल्ली (टेक डेस्क)। PUBG Mobile बहुत कम समय में ही पूरी दुनिया में काफी लोकप्रिय हो गया है। वहीं, इसका स्मार्टफोन वर्जन लॉन्च होने के बाद लोगों में इसका क्रेज और भी ज्यादा बढ़ गया। इसका एक मुख्य कारण यह भी है कि PUBG Mobile के स्मार्टफोन में उपलब्ध होने से हर एक व्यक्ति के हाथ में हर समय यह गेम उपलब्ध हो गया। इस गेम की पहुंच को बढ़ाने के लिए गेम डेवलपर्स ने गेम का Lite वर्जन उपलब्ध कराया ताकि यह कम पावरफुल डिवाइसेज के साथ भी चल सके।
भारत में PUBG को मेनस्ट्रीम करने के पीछे एक मुख्य कारण किफायती कीमत में पावरफुल डिवाइसेज का उपलब्ध होना, 4G की बढ़ती उपलब्धता और कम कीमत में 4G डाटा का मिलना भी रहा। इन सभी कारकों के कारण PUBG तक प्लेयर्स की पहुंच बहुत आसान हो गई। हालंकि, इसके पॉपुलर होते ही इसकी परेशानियां भी बढ़ गई। गेम के लॉन्च के बाद से ही ऐसी खबरें आने लगी की प्लेयर्स इस गेम के एडिक्ट होने लगे। इसकी वजह से प्लेयर्स खाना, नींद और स्कूल तक छोड़ने लगे।

PUBG Ban: PUBG को लेकर परेशानियां तब और बढ़ गई जब सरकार से लेकर कानूनी अधिकारी इस गेम को बैन करने के लिए मैदान में उतरने लगे। इसके पीछे का कारण यह था की PUBG के खिलाफ या इसे बैन करने के लिए कई शिकायतें की जा रही थी। जानते हैं इस गेम को अब तक कहां-कहां बैन किया जा चुका है:
गुजरात: रिपोर्ट्स के अनुसार, PUBG को गुजरात के कुछ क्षेत्रों जैसे की- राजकोट, अहमदाबाद, भावनगर आदि में बैन कर दिया गया था। इसके अलावा, सरकार ने स्कूल को सर्कुलर भी जारी किया जिसमें गेम को बैन करने की बात कही गई थी। हालांकि, हाई कोर्ट ने यह नोट किया की अधिकतर स्कूल, परिसर में मोबाइल फोन्स के इस्तेमाल को मना कर चुके हैं। वहीं, कुछ रिपोर्ट्स ऐसे भी आई जिसमें रिपोर्ट किया गया की कुछ लोग सुसाइड कर रहे हैं, परिवार के सदस्यों पर अटैक कर रहे हैं और पैसे तक चुरा रहे हैं। कई जगह से ये रिपोर्ट्स भी आई की पुलिस गेम खेलने वाले बच्चों को गिरफ्तार कर रही है।

PUBG खेलने के शौकीन आप में कई लोग होंगे, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि PUBG से जुड़ी एक्सेसरीज ई-कॉमर्स पोर्टल अमेजन पर उपलब्ध कराई जाती हैं। अगर आप PUBG के शौकीन हैं तो अमेजन पर जाकर इन्हें खरीद सकते हैं। 

[embedded content]
तमिलनाडु: जैसा पहले रिपोर्ट किया गया था, वेल्लोर इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने भी यूनिवर्सिटी में गेम को बैन किया था। बैन मुख्य रूप से हॉस्टल परिसर में गेम खेलने पर लगाया गया था।

नेपाल: भारत में इस गेम को लेकर बैन के बाद, हाल ही में आई रिपोर्ट में नेपाल ने भी इस गेम पर बैन लगा दिया है। ऐसी रिपोर्ट्स भी सामने आई जिसमें PUBG खेलने वाले प्लेयर्स को गिरफ्तार करने की बात भी सामने आई।
चीन: इसके अलावा, चीन में भी इस गेम को 13 वर्ष से कम के बच्चों के लिए बैन कर दिया गया है। अभी यह कन्फर्म नहीं है की इसे अन्य देशों में भी बैन किया जाएगा या नहीं, लेकिन अलग-अलग देशों में पेरेंट्स इस गेम को बैन करने की मांग कर रहे हैं।

PUBG Mobile Game के लोकप्रिय और बैन होने के सिलसिले के बीच एक हैरान करने वाली खबर सामने आई| जहां एक जगह इस गेम को बैन करने की मांग की जा रही है, वहीं वो कारण भी दिख रहे हैं जिस वजह से गेम को बैन करने के लिए कहा जा रहा है| HushHush.com पर हाल ही में की गई एक पोस्ट के अनुसार, उनका एक अनाम कस्टमर PUBG गेम को मोबाइल पर नहीं बल्कि असल जिंदगी में एक प्राइवेट आइलैंड पर खेलना चाहता है। यह एक विज्ञापन के तौर पर दिया गया है। एड में लिखा गया है की एक अनाम व्यक्ति 100 आदमियों के साथ पेंटबॉल स्टाइल में बैटल रॉयल अनुभव को दोबारा से क्रिएट करना चाहता है।
यह भी पढ़ें:

Samsung Galaxy Fold 6 कैमरे और 5G सपोर्ट के साथ कल होगा लॉन्च
Samsung Galaxy Note 10 दो वेरिएंट में 5G फीचर के साथ हो सकता है लॉन्च
WhatsApp यूजर्स भारत में फैला रहे Anti-vaccine फेक न्यूज, जानें सच 
Posted By: Sakshi Pandya

Source: jagran.com

Related posts