F-16 पर पाकिस्तान का झूठ बेनकाब, वायुसेना ने कहा- भारत के पास विमान मार गिराने के पक्के सबूत

एयर वाइस मार्शल आर.जी.के कपूर ने कहा, ‘हमारे पास और भी सबूत हैं कि पाकिस्तान का एक एफ-16 मार गिराया गया था. हालांकि सुरक्षा और गोपनीयता कारणों से इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं दी जा सकती’

News18Hindi

Updated: April 8, 2019, 6:29 PM IST

भारत द्वारा पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराए जाने का विवाद गहराता जा रहा है. भारतीय वायुसेना ने कहा कि उसके पास इस बात के पक्के सबूत हैं कि पाकिस्तान ने न सिर्फ भारत के खिलाफ एफ-16 का इस्तेमाल किया बल्कि कैप्टन अभिनंदन ने मिग-21 बाइसन से हवा में उसे मार गिराया है.सोमवार को इंडियन एयरफोर्स ने कहा कि 27 फरवरी, 2019 को यकीनी तौर पर दो लड़ाकू विमान मार गिराए गए थे. जिनमें एक भारत का मिग-21 बाइसन था और दूसरा पाकिस्तान का एफ-16 फाइटर जेट था.IAF Statement: There is no doubt that two aircraft went down in the aerial engagement on 27 February 2019 one of which was the bison of IAF while the other was F-16 of Pakistan Air Force conclusively identified by its electronic signature and radio transcripts. https://t.co/7npwi7xP98— ANI (@ANI) April 8, 2019न्यूज़ एजेंसी ANI के अनुसार एयर वाइस मार्शल आर.जी.के कपूर ने कहा, ‘हमारे पास और भी सबूत हैं कि पाकिस्तान का एक एफ-16 मार गिराया गया था. हालांकि सुरक्षा और गोपनीयता कारणों से इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं दी जा सकती.’Loading… Air Vice Marshal RGK Kapoor: Have more credible evidence that is clearly indicative of fact that Pakistan has lost one F-16 however due to security and confidentiality concerns we are restricting the information being shared in the public domain pic.twitter.com/XrtXGOOvP8— ANI (@ANI) April 8, 2019दरअसल पिछले हफ्ते अमेरिकी मैगजीन फॉरन पॉलिसी ने रिपोर्ट छापी थी जिसमें दावा किया गया था कि अमेरिका ने पाकिस्तान के बुलावा पर वहां का दौरा कर उसके एफ-16 विमानों की गिनती को पूरा पाया था. उसके सभी एफ-16 विमान सुरक्षित हैं.मैगजीन ने अमेरिकी रक्षा अधिकारियों के हवाले से दावा किया था कि 27 फरवरी को एयर स्ट्राइक के बाद भारत का पाकिस्तानी एफ-16 विमान को मार गिराने का दावा गलत हो सकता है.बता दें कि 28 फरवरी को इंडियन आर्मी की तीनों अंगों (थल सेना, वायुसेना और नौसेना) ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पाकिस्तानी एफ-16 मार गिराने के सबूत पेश किए थे. सेना ने बताया था कि पाकिस्तानी फाइटर प्लेन एफ-16 ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की थी. सेना की तरफ से मीडिया को एफ-16 में लगने वाले मिसाइल के टुकड़े दिखाए गए थे.

Loading…

और भी देखें

Source: News18 News

Related posts