मुंबई ब्रिज हादसा: जानिए कैसे 26/11 आतंकी हमले और कसाब से जुड़े हैं इस फुटओवर ब्रिज के तार

क्यों कहते हैं ‘कसाब ब्रिज’ मुंबई के जिस फुटओवर ब्रिज पर ये हादसा हुआ वो पुल भीड़-भाड़ वाले छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस रेलवे स्टेशन को आजाद मैदान पुलिस थाना से जोड़ता था। इस पुल को ‘कसाब ब्रिज’ भी कहा जाता है। इसके तार 26/11 के आतंकवादी हमले से भी जुड़े हैं। दरअसल मुंबई में हुए आतंकी हमले के दौरान आतंकवादियों सीएसटी स्टेशन पर आतंक मचाने के बाद निकलने के लिए इसी ब्रिज का इस्तेमाल किया था। यहां से गुजरने पर इसे ‘कसाब पुल’ के नाम से जाना जाता है। 26/11 के आतंकी हमले से संबंध दरअसल यह फुटओवर ब्रिज सीएसटी प्‍लेटफॉर्म संख्‍या 1 के उत्‍तरी छोर को टाइम्‍स ऑफ इंडिया बिल्डिंग के पास बीटी लेन से जोड़ता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 26/11 में हुए मुंबई आतकी हमले के दौरान लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी अजमल आमिर कसाब ने इसी पुल का इस्तेमाल किया था। इस आतंकी हमले में एकमात्र बचे जिंदा आतंकी कसाब ने मुंबई पर कहर बरसाने के लिए इस पुल का इस्तेमाल किया था। उसने इस बात को कबूला था कि सीएसटी के फुटओवर ब्रिज से होते हुए वो टाइम्स बिल्डिंग की ओर गया था। पहले भी हो चुके हैं ऐसे हादसे आपको बता दें कि इससे पहले सितंबर 2017 में भी इसी तरह के हादसे ने मुंबई को हिला कर रख दिया था। 29 सितंबर 2017 को मुंबई के परेल इलाके में एलफिन्स्टन रेलवे स्टेशन पर बना फुट ओवर ब्रिज अचानक गिर गया था। हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई थी। उस हादसे को लेकर रेलवे ने सफाई दी थी कि बारिश से बचने के लिए एफओबी पर भारी भीड़ जमा हो गई थी और अफवाह की वजह से भगदड़ मच गई।
Source: OneIndia Hindi

Related posts