इमरान खान से ज्यादा ममता बनर्जी से देश को खतरा: बंगाल बीजेपी अध्यक्ष

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बालाकोट एयर स्ट्राइक पर संदेह जताया था. उन्होंने इस कार्रवाई के सबूत मांगे थे. उन्होंने कहा था कि जवानों की कामयाबी पर उन्हें संदेह नहीं है, लेकिन सैनिकों के शौर्य के राजनीतिकरण का वे पुरजोर विरोध करती हैं. इसपर पलटवार करते हुए बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि ममता बनर्जी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तुलना में देश को ज्यादा नुकसान पहुंचा सकती है.एक प्रेस कांफ्रेंस में घोष ने कहा, ‘जब पूरा देश पुलवामा आतंकी हमले के बाद जवाबी कार्रवाई की मांग कर रहा है. तब ममता बनर्जी, राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल जैसे विपक्षी नेता बालाकोट एयर स्ट्राइक पर अपमानजनक टिप्पणी करके पाकिस्तान का काम आसान कर रहे हैं.’घोष ने कहा, ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस स्थिति में एकजुट होने के बजाय वे बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की संख्या पूछ रहे हैं. ऐसे में ममता बनर्जी सहित ये नेता अब पाकिस्तान में बहुत लोकप्रिय हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं सभी को याद दिलाना चाहूंगा कि एक बार लालू यादवजी भी पाकिस्तान में लोकप्रिय थे. अब सभी को मालूम है कि उनकी वर्तमान स्थिति क्या है.’घोष ने कहा, ‘मुझे लगता है कि इमरान खान जैसे लोगों को भारत को नुकसान पहुंचाने की जरुरत नहीं है. बनर्जी अकेले काफी हैं. जब तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टी यहां काम कर रही है, तो हमला करने के लिए सिमी, जमात-उल-मुजाहिदीन या अलकायदा जैसे आतंकवादी संगठनों की क्या जरूरत है?’ये भी पढ़ें: भारतीय सेना ने मेंढर के पार पाकिस्तानी पोस्ट को उड़ाया, फायरिंग जारीबंगाल में नंदीग्राम और छोटो अंगरिया नरसंहारों को याद करते हुए घोष ने कहा, ‘उन्होंने (ममता बनर्जी) ने तुरंत दावा किया था कि सैकड़ों लोग मारे गए थे. मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि नंदीग्राम और छोटो अंगरिया में हताहतों की संख्या के बारे में उन्हें कितना पता था? उस समय हताहतों की गिनती किसने की. अब वे आतंकियों पर की गई कार्रवाई पर सबूत मांग रही हैं. विपक्षी दलों के ऐसे बयानों से भारतीय सेना का मनोबल गिर जाएगा.’घोष ने कहा, ‘पिछले कुछ दिनों से विपक्षी दलों के कुछ नेताओं के बयान सुनकर ऐसा लगता है कि उन्हें पाकिस्तान के लोगों से ज्यादा दुख है.’Loading… ये भी पढ़ें: दबाव का असर! हाफिज सईद की संस्था जमात-उद-दावा और फलह-ए-इंसानियत को पाक सरकार ने किया बैनवहीं घोष के हमले का जवाब देते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘हम अपने जवानों को सलाम करते हैं, लेकिन हम किसी को भी इस मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करने देंगे. मेरे पिता एक स्वतंत्रता सेनानी थे और मुझे पता है कि देशभक्ति क्या है? मैं अपने जवानों के खिलाफ नहीं हूं. लेकिन, मैं उस बीजेपी के खिलाफ हूं, जो उनके शौर्य पर राजनीति कर रही है’एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Source: News18 News

Related posts