राजनाथ का कांग्रेस पर हमला, बोले बालाकोट में क्या पेड़ मोबाइल चला रहे थे

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा। पीएम ने कहा कि विपक्ष के लोग एयर स्ट्राइक का सबूत मांगकर सेना को कमजोर कर रहे हैं और ये वही लोग हैं जिन्होंने मुम्बई हमले में पाकिस्तान को क्लीन चिट दे दी थी। प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकियों को उनके अंजाम के बारे में बता दिया गया है और उनके घर में घुसकर जवाब दिया जा चुका है। अब आतंकियों के पास सुधरने के अलावा कोई और चारा नहीं है।
पीएम मोदी ने कहा पूरी दुनिया ने कह दिया है कि हिंदुस्तान ने जो किया वो सही किया लेकिन हमारे देश का दुर्भाग्य है कि यहाँ कुछ ऐसे लोग है जिन्हें ऐसा नहीं लगता।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह द्वारा पुलवामा हमले को हादसा करार देने पर मोदी ने जमकर उन्हें खरी खोटी सुनाई है। मोदी ने कहा आज सुबह ही इन महाशय ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले को दुर्घटना करार दिया है, यानि एक्सीडेंट। यानि एक हादसा, जो बस हो गया। यही इनकी मानसिकता है। आतंकियों को बचाने के लिए, उनका पक्ष लेने के लिए अब ये उनके द्वारा किए गए हमले को, सिर्फ एक हादसा बता रहे हैं।
आतंक के मुद्दे पर पीएम ने गांधी परिवार पर जमकर हमला बोला है, उन्होंने कहा है कि नामदार परिवार के ये वही खास सिपहसालार हैं, जिन्हें आतंक को बढ़ावा देने वाले शांति दूत नजर आते हैं। ये वही महोदय हैं, जिनको दुनिया का सबसे बड़ा आतंकी ओसामा भी शांतिदूत लगता था।
[embedded content]
बीजेपी के खिलाफ बन रहे है महागठबंधन पर मोदी ने आड़े हांथो लेते हुए कहा है कि भारत भर में महा-मिलावट करने वाले लोग अब अंतर्राष्ट्रीय महा-मिलावट करने में लगे हैं। सिर्फ अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए पाकिस्तान के साथ मिलकर महा-मिलावट कर रहे हैं। जब एयर-स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की बोलती बंद हो गई, पूरे विश्व में अलग थलग पड़ गया तो उसकी इज्जत बचाने के लिए यही महा-मिलावटी लोग सामने आए।
मोदी ने पाकिस्तान और आतंकियों के आकाओं को चेतावनी देते हुए कहा है कि आतंकियों और आतंक के सरपरस्तों को डंके की चोट पर कह दिया है कि अब उनके सामने सुधरने के अलावा कोई चारा नहीं और अगर वो फिर भी नहीं सुधरेंगे तो क्या होगा ये भी उन्हें बता दिया गया है।
देश की आज़ादी से लेकर देश के विकास में आदिवासी नायकों का बहुत बड़ा योगदान रहा है। भाजपा सरकार, इस योगदान को सम्मान देने का काम भी कर रही है। आज़ादी की लड़ाई में जिन आदिवासी बेटे-बेटियों ने बलिदान दिया है, उनकी याद में देशभर में स्मारकों का निर्माण हो रहा है।
पीएम मोदी ने कांग्रेस के ऊपर किसानों को ठगने का आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों के नाम पर इन्होंने वोट मांगे थे। इन्होंने कहा था 10 दिन के भीतर पूरा कर्ज माफ कर देंगे। जिनको ये नहीं पता कि पेड़ और झाड़ में क्या फर्क होता है, वो खेती किसानी का विशेषज्ञ बनकर यहां के लोगों से बड़े-बड़े वायदे कर रहे थे।
[embedded content]
Source: HW News

Related posts