AIADMK-BJP गठबंधन पर जल्द लग सकती है मुहर, ओ पन्नीरसेल्वम ने विधानसभा में दिए संकेत

India oi-Ashutosh Ray |

Published: Thursday, February 14, 2019, 15:04 [IST]
चेन्नई। AIADMK के समन्वयक और तमिलनाडु के उप मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम (ओपीएस) ने बुधवार को भाजपा के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन पर संकेत दिए हैं। राज्य विधानसभा के अंदर अन्नाद्रमुक और कांग्रेस के बीच हुई गहमा गहमी के बीच पनीरसेल्वम ने कहा कि चूंकि कांग्रेस द्रमुख गठबंधन किया गया है और इसके बारे में चर्चा भी होती है इसलिए अन्नाद्रमुक के अकेले की संभावना तलाशने का कोई सवाल ही नहीं है। राज्य विधानसभा में पन्नीरसेल्वम ने दिए संकेत दरअसल राज्य विधानसभा में यह सब उस समय देखने और सुनने को मिला जब कांग्रेस विधायक दल के प्रमुख केआर रामासामी ने अन्नाद्रमुक सरकार से पूछा कि क्या वह बिना गठबंधन के चुनाव का सामने करने के लिए तैयार हैं। इसके बाद पनीरसेल्वम ने भी सवाल का जवाब शानदार तरीके से दिया। उन्होंने कहा AIADMK अकेले चुनाव लड़ेगी अगर हर कोई अकेले चुनाव लड़ेगा। इसके साथ-साथ उन्होंने कहा कि तमिलनाडु कांग्रेस के पास इस सवाल को उठाने के लिए कोई वजह नहीं है क्योंकि पार्टी पहले से ही डीएमके के पीछे चल रही है। गठबंधन की बातचीत में लगे हैं दो मंत्री AIADMK और भाजपा के कई सूत्रों ने News18 से बात करते हुए पुष्टि की है कि दोनों पक्षों के बीच बातचीत चल रही है और पार्टी के अकेले चुनाव लड़ने का कोई सवाल ही नहीं है। जैसा कि 2014 में हुआ था। सूत्रों ने कहा कि ओ पन्नीरसेल्वम ने तो केवल बीजेपी के साथ गठबंधन के केवल संकेत दिए हैं। कहा ये भी जा रहा है कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के दो करीबी मंत्री भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के साथ बातचीत कर रहे हैं। ये दोनों मंत्री गठबंधन की चर्चा को आगे बढ़ाने के लिए गठित पांच सदस्यीय समिति का हिस्सा भी हैं। बीजेपी के साथ गठबंधन पर क्या बोले पार्टी के नेता बता दें कि पिछले कुछ हफ्तों में बीजेपी के साछ गठबंधन को लेकर AIADMK के वरिष्ठ नेताओं के कई अलग-अलग विचार भी सामने आए हैं। लोकसभा के उपाध्यक्ष एम थम्बीदुरई और अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता सी पौन्नैयन ने प्रतिक्रिया दी है। इन नेताओं ने जोर देकर कहा कि बड़े पैमाने पर जनता ऐसे गठबंधन के खिलाफ है। लेकिन राज्य भाजपा ने यह सुनिश्चित किया है कि भाजपा के खिलाफ पार्टी नेताओं का व्यक्तिगत बयान अन्नाद्रमुक का आधिकारिक बयान नहीं माना जाएगा।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें – निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!
Source: OneIndia Hindi

Related posts