एलजी किरण बेदी के खिलाफ धरना, सड़क पर सोए पुडुचेरी के मुख्यमंत्री

India oi-Kamal Kumar |

Published: Thursday, February 14, 2019, 13:31 [IST]
नई दिल्ली। पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायनसामी अपने मंत्रियों के साथ उपराज्यपाल किरण बेदी के खिलाफ धरने पर बैठे हैं। इस धरने के दौरान मुख्यमंत्री अपने कैबिनेट मंत्रियों और विधायकों के साथ बुधवार रात राज निवास के बाहर सड़क पर ही सो गए। पुडुचेरी के सीएम ने किरण बेदी पर कई आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि ये धरना चुनी हुई सरकार के कामों में दखल देने और कल्याणकारी योजनाओं को रोकने के विरोध में किया जा रहा है। ये भी पढ़ें: केजरीवाल सरकार vs एलजी: सेवा मामले पर जज एकमत नहीं, बड़ी बेंच के पास भेजा गया मामला पुडुचेरी के मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने (एलजी) सरकार की मुफ्त चावल योजना को खारिज कर दिया और फाइल लौटा दिया। वे चुनी हुई सरकार के कामकाज को कैसे रोक सकती हैं। दरअसल, किरण बेदी ने बाइक सवारों को तल्काल प्रभाव से हेलमेट पहनना अनिवार्य किया था, जिसके बाद से ही सरकार के साथ उनका विवाद बढ़ गया। सीएम नारायणसामी इसके खिलाफ थे, वे इसको चरणबद्ध तरीके से लागू करना चाहते थे। इसको लेकर कुछ विधायकों ने प्रदर्शन भी किया था। Dharna against the @LGov_Puducherry is continuing. Sleeping infront of Raj Nivas #Puducherry along with our Ministers & MLAs. pic.twitter.com/xGREfihaSf
— V.Narayanasamy (@VNarayanasami) February 13, 2019 राज निवास के बाहर प्रदर्शन कर रहे मुख्यमंत्री की मांग है कि उपराज्यपाल चावल योजना सहित कुल 39 योजनाओं को मंजूरी दें। उनका आरोप है कि पीएम मोदी के इशारे पर किरण बेदी ये सब कर रही हैं। उन्होंने कहा कि किरण बेदी कामकाज में बाधा उत्पन्न कर सरकार के खिलाफ साजिश कर रही हैं। वहीं, उपराज्यपाल किरण बेदी ने मुख्यमंत्री को खत लिखा है और 21 फरवरी सुबह 10 बजे बातचीत के लिए बुलाया है। किरण बेदी ने अफसोस जताया कि सीएम ने अपने पत्र के जवाब का इंतजार किए बिना राज निवास के सामने धरना शुरू दिया। उन्होंने कहा कि ये तरीका मुख्यमंत्री के पद पर बैठे व्यक्ति को शोभा नहीं देता है। उन्होंने कहा कि राज निवास के पास कोई मामला लंबित नहीं है।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें – निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!
Source: OneIndia Hindi

Related posts