राहुल के नए आरोप पर रिलायंस डिफेंस की सफाई, राफेल नहीं एयरबस को लेकर था ईमेल

रिलायंस डिफेंस ने राहुल के आरोप किए खारिज रिलायंस डिफेंस के प्रवक्ता ने राहुल गांधी के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि उक्त ईमेल एयरबस और रिलायंस के बीच सहयोग को लेकर था।उन्होंने कहा कि एयरबस और रिलायंस डिफेंस के बीच मेक इन इंडिया के तहत सिविल और डिफेंस हेलिकॉप्टर प्रोग्राम्स के बारे में चर्चा के बारे में कांग्रेस द्वारा संदर्भित किया जा रहा है। इस ईमेल का राफेल को लेकर दोनों देशों की सरकारों के बीच डील से कोई संबंध नहीं है। राफेल को लेकर फ्रांस और भारत के बीच 25 जनवरी, 2016 को MoU साइन हुए थे, अप्रैल 2015 में नहीं। इससे ये साफ होता है कि तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है। ये भी पढ़ें:राफेल पर संसद में कैग रिपोर्ट पेश, विपक्ष ने किया हंगामा राफेल नहीं, एयरबस को लेकर था ईमेल- रिलायंस डिफेंस इसके पहले, बीजेपी ने भी राहुल गांधी के आरोपों को खारिज करते हुए इसे शर्मनाक करार दिया। बीजेपी ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि महज पीएम मोदी को घेरने के लिए राहुल गांधी ने जिस ईमेल का हवाला दिया है, वो किसी हेलीकॉप्टर डील का है ना कि राफेल सौदे का। बीजेपी ने राहुल के आरोपों पर जवाबी हमला बोला और उनपर प्रतिस्पर्धी कंपनियों के लिए दलाली का आरोप लगाया। राहुल ने ईमेल का हवाला देते हुए बोला था पीएम मोदी पर हमला राहुल गांधी ने आज प्रेस कॉन्फेंस कर पीएम मोदी पर हमला बोला था और पूछा कि पीएम मोदी को ये बताना चाहिए कि डील के 10 दिन पहले अंबानी को इसके बारे में कैसे मालूम हुआ। राहुल ने कहा कि पहले ये घोटाले का मामला था लेकिन अब ये ऑफिशियल सिक्रेट एक्ट के उल्लंघन का भी मामला बन गया है। पीएम मोदी को इनपर जवाब देना होगा। वे इनपर बात क्यों नहीं करते हैं।
Source: OneIndia Hindi

Related posts