अखिलेश को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने पर भड़कीं मायावती, कहा- हो रही है लोकतंत्र की हत्या

घटना अति-निन्दनीय और बीजेपी सरकार की तानाशाही का प्रतीक है: मायावती बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने पूरे मामले पर ट्वीट करके प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट में लिखा, “समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इलाहाबाद नहीं जाने देने कि लिये उन्हें लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक लेने की घटना अति-निन्दनीय व बीजेपी सरकार की तानाशाही व लोकतंत्र की हत्या का प्रतीक है।” Is the BJP government at the Centre and in Uttar Pradesh so afraid of the BSP-SP alliance that it is resorting to anti-democratic methods in order to curb our political activities. This is very unfortunate and this undemocratic step will be fought at all levels.
— Mayawati (@Mayawati) February 12, 2019 ‘ऐसी अलोकतंत्रिक कार्रवाईयों का डट कर मुकाबला किया जायेगा’ एक अन्य ट्वीट में बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने लिखा, “क्या बीजेपी की केन्द्र व राज्य सरकार बीएसपी-सपा गठबंधन से इतनी ज्यादा भयभीत व बौखला गई है कि उन्हें अपनी राजनीतिक गतिविधि व पार्टी प्रोग्राम आदि करने पर भी रोक लगाने पर वह तुल गई है। अति दुर्भाग्यपूर्ण। ऐसी अलोकतंत्रिक कार्रवाईयों का डट कर मुकाबला किया जायेगा।” बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया। पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे। छात्र संघ कार्यक्रम में जाने से रोकना का एक मात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है। pic.twitter.com/151IwzPl1t
— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) February 12, 2019 अखिलेश यादव ने ट्वीट कर दी थी मामले की जानकारी इससे पहले अखिलेश यादव ने पूरे मामले पर ट्वीट में कहा, “बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया। पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे। छात्र संघ कार्यक्रम में जाने से रोकना का एक मात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है।” एक और ट्वीट में उन्होंने लिखा, “एक छात्र नेता के शपथ ग्रहण कार्यक्रम से सरकार इतनी डर रही है कि मुझे लखनऊ हवाई-अड्डे पर रोका जा रहा है!” Ramgopal Yadav on Akhilesh Yadav alleges that he was stopped at Lucknow Airport: I directly blame the CM. Akhilesh had the permission. It was at the directions of the CM that he was stopped. They didn’t even let him reach Allahabad. pic.twitter.com/SbGPxfyht1
— ANI UP (@ANINewsUP) February 12, 2019 रामगोपाल यादव ने साथा सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना पूरे मामले पर समाजवादी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव ने भी टिप्पणी की है। उन्होंने एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव को रोके जाने के लिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा, “अखिलेश के पास इलाहाबाद जाने की अनुमति थी, लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद उन्हें रोक दिया गया। अखिलेश को इलाहाबाद तक नहीं पहुंचने दिया जा रहा। One more leader stopped from addressing students: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जा रहे अखिलेश यादव को लखनऊ प्रशासन ने एयरपोर्ट पर रोका, हंगामा… I strongly condemn this nonsense. However this also shows “bokhlahat” on the part of Modi-regime. @PMOIndia @yadavakhilesh
— Jignesh Mevani (@jigneshmevani80) February 12, 2019 जिग्नेश मेवाणी ने भी अखिलेश यादव के मुद्दे पर किया ये ट्वीट अखिलेश यादव को रोके जाने के मामले में गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवाणी ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, “एक और नेता को छात्रों को संबोधित करने से रोक लिया गया। मैं इसका कड़े शब्दों में विरोध करता हूं। हालांकि यह मोदी सरकार की बौखलाहट को दर्शाता है।”
Source: OneIndia Hindi

Related posts