बिहार में एनडीए की 3 मार्च को रैली, पीएम मोदी भी होंगे शामिल

नई दिल्ली : अयोध्या राम मंदिर मामले में एक बार फिर सुनवाई टल गई है. आपको बता दें कि मंगलवार यांनी 29 जनवरी को होनी थी. मिली जानकारी के मुताबिक जस्टिस बोबडे के छुट्टी पर होने की वजह से अयोध्या विवाद पर सुनवाई फिर टाल दी गई है. फिलहाल अगली सुनवाई की तारीख पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है.
आपको बता दें कि 29 जनवरी को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई कि अध्यक्षता में पांच जजों की नई बेंच इस मामले क सुनने वाली थी. इसके पहले 10 जनवरी को जस्टिस यू यू ललित पर सवाल उठने के बाद उन्होंने खुद को मामले से अलग कर लिया था. जिसकी वजह से 29 जनवरी तक सुनवाई की तारीख को टाल दिया गया था.

शुक्रवार को चीफ जस्टिस ने रंजन गोगोई ने मामले को सुनने के लिए नए बेंच का गठन किया था. इस बेंच में चीफ जस्टिस के अलावा जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस अब्दुल नजीर का समावेश है.

Ayodhya case won’t be taken up for hearing by the 5-judge constitution bench of Supreme Court on January 29 due to the non-availability of Justice SA Bobde pic.twitter.com/wzuJsBjwSJ
— ANI (@ANI) January 27, 2019

24 घंटे में कर देंगे समस्या का समाधान : योगी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अयोध्या राम मंदिर मामले में एक और बड़ा बयान सामने आया है. योगी आदित्यनाथ ने कहा की हम चाहे तो 24 घंटे में राम मंदिर मामले का समाधान कर सकते है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर मसले पर लोगों का धैर्य समाप्त हो रहा है और सर्वोच्च न्यायालय इस विवाद पर जल्द आदेश देने में असमर्थ है. योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘इसे हमारे हवाले कर देना चाहिए और 24 घंटे के भीतर इसका समाधान हो जाएगा.’ मुख्यमंत्री ने भारतीय जनता पार्टी द्वारा 2014 के लोकसभा चुनाव के मुकाबले आगामी आम चुनाव में उत्तर प्रदेश में ज्यादा सीटें जीतने का भी दावा किया है.
संतों की इच्छा का होगा सम्मान : राम माधव
भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता राम माधव ने राम मंदिर पर बड़ा बयान दिया है। प्रयाग राज के कुंभ मेले में राम माधव ने कहा है कि संतों के इच्छा का सम्मान किया जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि राम मंदिर पर संत जो कहेंगे वही किया जाएगा. इसके अलावा जब उनसे प्रियंका के राजनीति में आने पर सवाल किया गया तब उन्होंने इसपर चुप्पी साध ली. राम माधव के मुताबिक संतों और करोड़ों रामभक्तों की इच्छा के आगे सभी को झुकना ही होगा. प्रयागराज के कुंभ मेले में पहुंचे राम माधव ने संगम दर्शन और आरती के बाद कहा कि सरकार सिर्फ अदालत के फैसले का इंतजार कर रही है. अदालत के फैसले के बाद सभी को रामभक्तों की इच्छा के आगे झुकना ही पड़ेगा. राम माधव ने कहा कि राम मंदिर निर्माण का सपना जल्द ही साकार होगा. उनका दावा है कि मंदिर निर्माण जल्द ही शुरू हो जाएगा और इसके लिए कोई न कोई रास्ता ज़रूर निकलेगा.
[embedded content]
Source: HW News

Related posts