लोकसभा चुनाव: AIADMK ने दिये संकेत, BJP के साथ गठबंधन करने में कोई गुरेज नहीं

पन्नीरसेल्वम और ई पलानीस्वामी (फाइल)

News18Hindi

Updated: January 14, 2019, 8:49 PM IST

तमिलनाडु में सत्तारूढ़ ऑल इंडिया द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (AIADMK) ने सोमवार को संकेत दिए कि उसे आगामी लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी के साथ चुनावी गठबंधन करने से कोई गुरेज नहीं है. एआईएडीएमके में पार्टी का शीर्ष पद ‘समन्वयक’ संभालने वाले उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने कहा,‘चुनाव के समय, कुछ भी घटित हो सकता है.’उनके इस जवाब को उस स्पष्ट संकेत के रूप में देखा जा रहा है कि एआईएडीएमके को भगवा पार्टी के साथ चुनावी गठबंधन करने से कोई गुरेज नहीं है. पन्नीरसेल्वम से ये सवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाल में दिए गए उस बयान के बारे में पूछा गया था, जिसमें उन्होंने (प्रधानमंत्री) कहा था कि बीजेपी अपने पुराने सहयोगियों की हमेशा से कद्र करती रही है. साथ ही गठबंधन के लिए तैयार रही है.18 विधायकों को मद्रास HC ने ठहराया अयोग्य, AIADMK ने कहा- गद्दारों के लिए सही सबकउन्होंने मदुरै में पत्रकारों से कहा,‘एआईएडीएमके एक उपयुक्त और लोगों द्वारा पसंद किए जाने वाले गठबंधन की घोषणा करेगा.’ ओ पन्नीरसेल्वम ने कहा,‘जब भी चुनाव की घोषणा होती है, चाहे वह संसदीय चुनाव हो या स्थानीय निकाय चुनाव, एआईएडीएमके पूरी तैयारी के साथ लड़ने और जीतने के लिए तैयार है.’इस बीच बीजेपी की राज्य यूनिट की अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदर्यराजन ने चेन्नई में कहा कि उनकी पार्टी डीएमके-कांग्रेस गठबंधन में शामिल दलों के अलावा किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने के लिए तैयार है. उन्होंने कहा कि बीजेपी उन पार्टियों के साथ गठबंधन करेगी, जिनका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विश्वास है. जो विकास के एजेंडे और सुशासन के मार्ग पर चलने के लिए तैयार है. (PTI इनपुट)एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading…

और भी देखें

Updated: January 14, 2019 08:06 PM ISTकुंभ विशेष: क्या है शाही स्नान और क्यों इसे लेकर साधुओं के बीच खून-खच्चर की नौबत आ जाती है?

Source: News18 News

Related posts