लोकसभा चुनाव में कितना असरदार होगा महागठबंधन? NaMo ऐप पर सर्वे

क्या भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) विरोधी ‘महागठबंधन’ का आपके संसदीय क्षेत्र में कोई असर होगा? यह सवाल ‘नमो’ऐप पर ‘पीपुल्स पल्स’ सर्वे में लोगों से पूछे जाने वाले कई सवालों में से एक है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट कर लोगों से सर्वे में हिस्सा लेने की अपील की.आम चुनावों से पहले बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बनाने की कोशिशों के बीच ये सर्वे किया जा रहा है. इस सर्वे में लोगों से उनके राज्य, संसदीय क्षेत्र, सस्ती स्वास्थ्य सुविधाएं, किसानों की समृद्धि, भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन, स्वच्छ भारत, राष्ट्रीय सुरक्षा, अर्थव्यवस्था, ढांचागत सुविधाएं, रोजगार और ग्रामीण विद्युतीकरण जैसे क्षेत्रों में केंद्र सरकार की उपलब्धियों के बारे में पूछा जा रहा है.राजनीति के ये नए चेहरे तय करेंगे 2019 का रिज़ल्टवीडियो मैसेज में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘नमो ऐप पर सर्वे शुरू किया गया है. सर्वे के जरिए मैं सीधे आपका फीडबैक चाहता हूं. आपका फीडबैक मायने रखता है. विभिन्न मुद्दों पर आपके फीडबैक से हमें महत्वपूर्ण निर्णय करने में मदद मिलेगी. क्या आप सभी उस महत्वपूर्ण सर्वे में हिस्सा लेंगे?’I want your direct feedback on various issues…take part in the survey on the ‘Narendra Modi Mobile App.’ pic.twitter.com/hdshOPnOEY— Narendra Modi (@narendramodi) 14 January 2019Loading… सवालों में महागठबंधन के बारे में एक सवाल भी शामिल है. इसमें लोगों से पूछा गया है कि क्या ‘महागठबंधन’ का उनके संसदीय क्षेत्र में असर पड़ेगा.सर्वे में पूछे गए सवाल>>जब आप वोट देने जाते हैं तो कौन सा मुद्दा सबसे ज्यादा ध्यान में रखते हैं. स्वच्छता, रोजगार, शिक्षा, कानून-व्यवस्था, मंहगाई, भ्रष्टाचार और किसान कल्याण.>>आपके लोकसभा क्षेत्र के तीन लोकप्रिय बीजेपी नेताओं के नाम बताएं?>क्या आपको लगता है कि सरकार की कार्यप्रणाली सुधर रही है? (हां या नहीं)>>क्या आप देश के भविष्य को लेकर पहले से ज्यादा आशावादी महसूस करते हैं?>>क्या आप अपने क्षेत्र में प्रस्तावित महागठबंधन का प्रभाव देखते हैं?>>क्या आप भाजपा के लिए वॉलेंटियर बनने की इच्छा रखते हैं?>>क्या आपने भाजपा को दान दिया है?>>क्या आपको नमो की टी-शर्ट, मग आदि मिल हैं?यूपी में बसपा के कैंडिडेट की लिस्ट SOCIAL MEDIA पर VIRALयूपी में हुआ सपा-बसपा का गठबंधनबता दें कि उत्तर प्रदेश में शनिवार को बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन का ऐलान किया. दोनों पार्टियां उत्तर प्रदेश की 80 में से 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. रायबरेली और अमेठी सीटों को कांग्रेस के लिए, जबकि अन्य दो सीटों को सहयोगी पार्टियों के लिए छोड़ा गया है.उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बसपा सुप्रीमो मायावती और समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि ये गठबंधन स्थायी है और लंबा चलेगा. (PTI इनपुट के साथ)एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Source: News18 News

Related posts