‘उरी’ प्रॉपगैंडा फिल्म नहीं, इसमें राष्ट्रवाद की झलक कम : अनुराग कश्यप

मुंबई: फिल्मकार अनुराग कश्यप ने नई रिलीज ‘उरी’ की सराहना की है और कहा है कि अमेरिकी या दुनियाभर की अन्य युद्ध आधारित फिल्मों की अपेक्षा इस फिल्म में राष्ट्रवाद कम दिखाया गया है. फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ के निर्देशक कश्यप ने यह भी कहा कि आदित्य धर निर्देशित ‘उरी’ कोई प्रॉपगैंडा फिल्म नहीं है.कश्यप ने सोमवार को ट्वीट किया, “‘उरी’ एक प्रॉपगैंडा फिल्म नहीं है. सैनिकों के साहस के बारे में किसी भी युद्ध आधारित फिल्म में बहुत ज्यादा देशभक्ति, राष्ट्रवाद दिखाया जाता है. ‘बॉर्डर’, ‘एलओसी’ और ‘हकीकत’ में भी कमोबेश ऐसा ही दिखाया गया था. युद्ध वाली फिल्में या तो युद्ध विरोधी होती हैं, जैसे ‘कम एंड सी’ या फिर देशभक्ति से भरपूर होती हैं.”

The Jingoism spouted in “Uri” was far lesser than the jingoism I see in American movies or war movies from anywhere across the world. I think we watch everything from the coloured glasses of the time we live in and just don’t trust anyone’s intention.— Anurag Kashyap (@anuragkashyap72) January 14, 2019उन्होंने कहा, “‘उरी’ में जो राष्ट्रवाद दिखाया गया है, वह अमेरिकी फिल्मों या दुनिया में कही और की फिल्मों में दिखाए गए राष्ट्रवाद की अपेक्षा कम है.”फिल्मकार ने कहा कि उन्हें युद्ध विरोधी फिल्में पसंद हैं. ‘उरी’ में विक्की कौशल, यामी गौतम जैसे सितारे हैं. फिल्म की कहानी साल 2016 में भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित है.यहां देखें फिल्म का ट्रेलर…[embedded content]

Source: ABP News

Related posts