Meghalaya: नौसेना, एनडीआरएफ के गोताखोर पानी के स्तर का फिर से पता लगाएंगे

Publish Date:Thu, 03 Jan 2019 12:49 AM (IST)

 शिलांग, प्रेट्र। नौसेना और एनडीआरएफ के गोताखोर फिर से खदान में पानी के स्तर का पता लगाने के लिए उतरेंगे। बुधवार को गोताखोर खदान में नहीं उतर पाए। मेघालय के पूर्वी जयंतिया जिले में गैर कानूनी कोयला खदान में 13 दिसंबर से 15 मजदूर फंसे हैं। बुधवार को खदान से पानी निकालने के लिए शक्तिशाली पंप स्थापित किए गए। मंगलवार तक केवल एक पंप ही चालू हो पाया था।
अधिकारियों ने बताया कि फंसे मजदूरों की तलाशी और बचाव अभियान बहाल करने के लिए गोताखोर पानी के स्तर का आकलन करेंगे। अभियान के प्रवक्ता आर. सुसंगी ने बताया कि अभी तक 10 में से केवल एक पंप इस्तेमाल में लाया जा रहा है। ये पंप ओडिशा से लाए गए हैं। प्रवक्ता ने कहा कि उम्मीद है कि बुधवार से ही कोल इंडिया द्वारा भेजे गए एक और पंप को चालू किया जा सकेगा। अभी तक कई तैयारियां की जा रही हैं।
सुसंगी ने कहा कि नौसेना और एनडीआरएफ के गोताखोर उस मुख्य सुरंग के भीतर जाएंगे जहां 13 दिसंबर को दुर्घटना हुई। 370 फीट गहरी खदान में 21 दिनों से मजदूर फंसे हैं।

Posted By: Arun Kumar Singh

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment