प्रदोष व्रत: आज करें भगवान शिव की पूजा, परेशानियों से मिलेगा छुटकारा

भगवान शिव

News18Hindi

Updated: January 3, 2019, 7:49 AM IST

हिंदू धर्म में कई त्योहार और व्रत ऐसे हैं जिनका अपना अलग महत्व और पूजन विधि है. आज 3 जनवरी गुरुवार को प्रदोष व्रत है. इस व्रत को लोग भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए करते हैं. ऐसा माना जाता है कि इस व्रत को करने से भगवान शिव व्रती भक्त की सभी प्रकार की परेशानियों का हरण कर लेते हैं. प्रदोष व्रत के दिन भक्तजन माता पार्वती और भगवान शिव की आराधना करते हैं. ऐसी मान्यता है कि इस दिन जो भी भक्त ये व्रत करता है उसे किसी ब्राह्मण को गोदान (गाय का दान) करने के समान पुण्य लाभ होता है.शादी के पहले साल दुल्हन करे ये काम, तो बढ़ सकती है पति की परेशानी!हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, कलियुग में जब समाज में हर तरफ कुरीतियों का बोलबाला हो ऐसे समय में यह व्रत अंत्यंत मंगल परिणाम देने वाला होता है. प्रदोष का अर्थ होता है शाम का समय. ऐसा माना जाता है कि शाम के समय प्रदोषकाल में भगवान शिव कैलाश पर्वत के चांदी से बने भवन में तांडव नृत्य करते हैं. इस समय सारे देवी-देवता उनकी आराधना करते हैं.Isha Ambani Anand Piramal Wedding: ईशा ने शादी में पहनी इस दुकान की चूड़ियां, राजा-महाराजा भी करते हैं यहां शॉपिंगप्रदोष व्रत की पूजा-विधि:प्रदोष व्रत करने वाले व्रती को इस दिन सुबह सूर्योदय से पहले उठ जाना चाहिए. इसके बाद नहा-धोकर पूरे विधि-विधान के साथ भगवान शिव का भजन कीर्तन और पूजा-पाठ करना चाहिए. इसके बाद पूजाघर में झाड़ू-पोछा कर पूजाघर समेत पूरे घर में गंगाजल से पवित्रीकरण करना चाहिए. इसके बाद पूजाघर को गाय के गोबर से लीपना चाहिए.मिलता है यह फल:Loading… ऐसा माना जाता है कि जो भी भक्त ये व्रत करता है उसे किसी ब्राह्मण को गोदान (गाय का दान) करने के समान पुण्य लाभ होता है.प्रदोष व्रत में इस मंत्र का करें जाप:अब केले के पत्तों और रेशमी वस्त्रों की सहायता से एक मंडप तैयार करना चाहिए. अब चाहें तो आटे, हल्दी और रंगों की सहायता से पूजाघर में एक अल्पना (रंगोली) बना लें. इसके बाद साधक (व्रती) को कुश के आसन पर बैठ कर उत्तर-पूर्व की दिशा में मुंह करके भगवान शिव की पूजा-अर्चना करनी चाहिए. व्रती को पूजा के समय ‘ॐ नमः शिवाय’ और शिवलिंग पर दूध, जल और बेलपत्र अर्पित करना चाहिए.एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading…

और भी देखें

Updated: January 02, 2019 05:04 PM ISTVIDEO: सुनिए 2019 के लिए क्या है DGP अनिल रतूड़ी का न्यू ईयर रेज़ोल्यूशन

Source: News18 News

Related posts