श्रीनगर के मुजगुंड में मुठभेड़, एक पाकिस्तानी सहित दो आतंकी ढेर

Publish Date:Sun, 09 Dec 2018 12:13 AM (IST)

श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के बाहरी क्षेत्र मुजगुंड में शनिवार को हुई एक भीषण मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर के एक पाकिस्तानी आतंकी सहित दो आतंकियों को मार गिराया। वहीं, पांच सुरक्षाकर्मी भी घायल हुए हैं। मुठभेड़ के दौरान लगी आग में आतंकी ठिकाना बने मकान सहित चार घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

संदिग्ध मकानों की तलाशीअधिकारियों ने बताया कि शाम करीब साढ़े चार बजे पुलिस को पता चला कि तीन से चार आतंकी लाल चौक से करीब 15 किलोमीटर दूर मुजगुंड मलूरा में एक जगह छिपे हुए हैं। सूचना पक्की थी। इसके तुरंत बाद सेना की पांच आरआर, राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल और सीआरपीएफ के जवानों ने मिलकर वहां घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया। यह इलाका श्रीनगर-बारामुला राजमार्ग पर स्थित एचएमटी चौराहे से बांडीपोर की तरफ जाने वाली सड़क पर है। जवानों ने घेराबंदी करते हुए सभी संदिग्ध मकानों की तलाशी शुरू की।

ग्रेनेड फेंकने के बाद फायरिंग जैसे ही वह घट्ट मोहल्ले में शेख हमजा पब्लिक स्कूल के पास पहुंचे तो वहां स्थित एक मकान में छिपे आतंकियों ने उनपर पहले ग्रेनेड फेंकने के बाद फायरिंग शुरू कर दी। इसमें सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के दो जवान जख्मी हो गए। दोनों घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाने का बंदोबस्त करते हुए अन्य जवानों ने जवाबी फायर किया। करीब एक घंटे बाद सुरक्षाबलों को पहला आतंकी मार गिराने में सफलता मिली।
दूसरा आतंकी अगले एक घंटे के दौरान मारा गया। इस दौरान सेना के दो और पुलिस का एक और जवान जख्मी हो गया। सभी घायलों को बादामी बाग स्थित सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

धमाके से घरों में आग लगीवहीं, इस दौरान जहां आतंकी छिपे हुए थे वहां एक जोरदार धमाका होने के साथ ही आग भी लग गई। इससे मकान के आसपास के तीन अन्य घर भी चपेट में आ गए। इस दौरान रात साढ़े नौ बजे तक गोलीबारी होती रही। एसएसपी श्रीनगर ने कहा कि अभी तलाशी अभियान जारी है। वहां एक-दो आतंकी और छिपे होने की आशंका है।
मुठभेड़ में नष्ट हुए आतंकी ठिकाने में दो आतंकियों के शव एक जगह पड़े देखे गए हैं। जब तक हम उन शवों को अपने कब्जे में नहीं लेते, किसी आतंकी के मारे जाने की पुष्टि नहीं कर सकते। इस बीच सूत्रों ने बताया कि मारे गए आतंकियों में एक पाकिस्तानी आतंकी अली भाई है, जो पिछले एक साल से उत्तरी कश्मीर में सक्रिय था। दूसरा आतंकी बांडीपोर के हाजिन का रहने वाला मुदस्सर अहमद है।

मुठभेड़ के दौरान भड़की हिंसा, पांच घायलमुजगुंड में मुठभेड़ की खबर फैलते ही एचएमटी, पंरपोरा, मलूरा, लावेपोरा और अन्य इलाकों से बड़ी संख्या में युवक जिहादी नारेबाजी करते हुए मुठभेड़स्थल पर जमा होने लगे। युवक राष्ट्रविरोधी नारेबाजी करते हुए सड़कों पर उतर आए और हिंसा शुरू कर दी। ऐसे में सुरक्षाबलों ने भी पथराव कर रही भीड़ पर काबू पाने के लिए लाठियां, आंसूगैस और पैलटगन का सहारा लिया। इस दौरान पांच लोगों के के घायल होने की खबर है।

Posted By: Arun Kumar Singh

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment