भारत-अमेरिका की वायुसेनाएं फिर होगी ‘कोप इंडिया’ में आमने-सामने

Publish Date:Sat, 01 Dec 2018 10:37 PM (IST)

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। भारत और अमेरिका के बीच सैन्य संबंधों को मजबूती देने और वायु सैनिकों के युद्ध कौशल को बढ़ाने के लिए दोनो ही देशों की वायुसेना के बीच तीन दिसंबर से 14 दिसंबर तक पश्चिम बंगाल मे ‘कोप इंडिया’ नाम से वायुसैनिक युद्धाभ्यास शुरु होने जा रहा है। वायुसेना स्टेशन कलाई कुंडा और अर्जन सिंह वायुसेना स्टेशन, पानागढ़ में 12 दिनों तक दोनो देशों के वायुसैनिक संयुक्त अभ्यास करेंगे।
हिंद प्रशांत इलाके में दोनों देशों की बढ़ती सामरिक साझेदारी के मद्देनजर वायु सेनाओं के बीच होने वाला यह अभ्यास काफी अहम है। इस अभ्यास के पीछे दोनों देशों द्वारा खुले और मुक्त हिंद प्रशांत इलाके की प्रतिबद्धता दिखती है। अभ्यास का मुख्य उद्देश्य भारतीय और अमेरिकी वायु सेनाओं के बीच सहयोग को बढ़ावा देना है। इसके अलावा युद्धाभ्यास के दौरान मौजूदा क्षमताओं को सुदृढ़ करना, हवाई रणनीति और सैन्य तैनाती को बेहतर करना है।
इस अभ्यास के लिये अमेरिकी वायुसेना के जापानी कडेना वायुसैनिक अड्डा और इलिनायस स्थित 182 वीं एयर लिफ्ट विंग पर स्थित 15 विमानों को कलाई कुंडा भेजा जा रहा है। एयर नेशनल गार्ड से अमेरिका के 200 वायु सैनिक संयुक्त अभ्यास में हिस्सा लेंगे।

इससे पहले दोनों देशों के बीच कोप इंडिया अभ्यास आठ साल पहले 2010 में हुआ था। बता दें कि पहली बार कोप इंडिया अभ्यास साल 2004 में वायु सेना स्टेशन ग्वालियर में आयोजित हुआ था। आठ सालों बाद होने वाला यह युद्धाभ्यास काफी गहन और ऊंचे स्तर का हो गया है। कोप इंडिया के दौरान विशेषज्ञों के बीच वार्तालाप, एयर मोबिलिटी ट्रेनिंग, बड़े स्तर के सैन्य अभ्यास के अलावा लड़ाकू विमानों के ट्रेनिंग अभ्यास शामिल है।
अमेरिकी वायुसेना के 13वें एयर एक्सपीडिशनरी ग्रुप के कर्नल डैरिल इनसले ने इस अभ्यास में भागीदारी को लेकर कहा कि वह इस अभ्यास के लिये भारतीय वायुसेना के पायलटों के साथ ट्रेनिंग करने और साथ मिलकर उड़ान भरने के लिये और भारत जाने को लेकर काफी उत्साहित हैं।

Posted By: Ravindra Pratap Sing

Source: Jagran.com

Related posts

Leave a Comment