सर्वे: दिल्ली में फिर होगी AAP की वापसी, आ सकती हैं इतनी सीटें

नई दिल्ली। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में किसकी सरकार बनेगी ये तो 11 दिसंबर को नतीजे सामने आने के बाद ही पता चलेगा। इस बीच दिल्ली की बात करें तो यहां आज चुनाव होने पर कौन सी पार्टी जीत दर्ज कर सकती है इसको लेकर एक सर्वे कराया गया। ये सर्वे ‘नेता ऐप’ के जरिए किया गया, जिसमें करीब 70 हजार लोगों से राय ली गई। सर्वे के मुताबिक दिल्ली की वर्तमान अरविंद केजरीवाल सरकार के कार्यों को लोग पसंद कर रहे हैं। सर्वे के नतीजों से साफ है कि आम आदमी पार्टी फिर से दिल्ली में सरकार बना सकती है। मुख्यमंत्री के तौर पर जनता की पहली पसंद कौन है ये भी सर्वे में सामने आया है।

इसे भी पढ़ें:- शाह के बाद मोदी ने भी नहीं दिया कुशवाहा को मिलने का समय, क्या तोड़ देंगे गठबंधन?

‘नेता ऐप’ से सर्वे, केजरीवाल सरकार को पसंद कर रहे लोग
‘नेता ऐप’ से दिल्ली को लेकर कराए गए सर्वे में ज्यादातर लोगों का मानना है कि वो आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल को एक बार फिर से मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं। करीब 65 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें दिल्ली की केजरीवाल सरकार का काम पसंद आया है। AAP सरकार की ओर से शुरू की गई योजना सेवाओं की डोर स्टेप डिलिवरी को लोग पसंद कर रहे हैं। वहीं मोहल्ला क्लीनिकों को भी काफी पसंद किया जा रहा है।

शीला दीक्षित से बेहतर सीएम हैं अरविंद केजरीवाल: सर्वे
हालांकि करीब 35 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्हें दिल्ली सरकार का काम पसंद नहीं आया। इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि वो केजरीवाल को दोबारा मुख्यमंत्री के तौर पर नहीं देखना चाहते हैं। सर्वे के नतीजों से साफ है कि दिल्ली में एक बार फिर AAP की वापसी हो सकती है। हालांकि इस बार उसे कुछ सीटों का नुकसान जरूर होगा। ‘नेता ऐप’ सर्वे के मुताबिक आम आदमी पार्टी अभी चुनाव होने पर दिल्ली में 44 सीटें जीत सकती है। हालांकि पार्टी की स्थिति दक्षिण-पश्चिम दिल्ली में कमजोर नजर आ रही है।

‘पीएम की रेस में मोदी के बाद दूसरे नंबर पर केजरीवाल’
दिल्ली में मुख्यमंत्री पद की बात करें तो अरविंद केजरीवाल दिल्ली के लोगों की पहली पसंद हैं। 62 फीसदी लोगों का मानना है कि अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री के तौर पर दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित से बेहतर हैं। सर्वे में प्रधानमंत्री पद को लेकर भी सवाल किया गया। सर्वे में शामिल लोगों की पहली पसंद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही बने हुए हैं। 61 फीसदी लोगों ने कहा कि वो मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री के तौर पर देखते हैं। दूसरे नंबर पर जनता ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से ज्यादा अरविंद केजरीवाल पर भरोसा जताया है। 24 फीसदी लोग चाहते हैं कि अरविंद केजरीवाल प्रधानमंत्री बनें।

इसे भी पढ़ें:- सर्वे: UP में हुआ महागठबंधन तो NDA को इतनी सीटों का नुकसान

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें – निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!
Source: OneIndia Hindi

Related posts