महबूबा ने PM मोदी को पत्र लिखकर कहा, ‘शारदापीठ तीर्थ स्थल खोले सरकार’

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नियंत्रण रेखा के पार शारदापीठ को तीर्थाटन के लिए खोलने की मांग की. महबूबा ने कहा कि पाक प्रशासित कश्मीर में शारदापीठ कश्मीर के वैभवशाली इतिहास का उत्कृष्ट अवशेष है.उन्होंने लिखा, ‘आपके प्रतिष्ठित पूर्ववर्तियों के कार्यकाल में की गई पहलों से मुजफ्फराबाद और रावलकोट मार्ग खुले. वैसे तो उनकी क्षमता का पूर्ण रुप से साकार किया जाना बाकी है लेकिन करतारपुर के खुलने से अवसरों का एक द्वार खुला है.’ उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने हमेशा ही भारत और पाकिस्तान के बीच लोगों के मेल-मिलाप पर बल दिया है.उन्होंने कहा, ‘यह यहां के लोगों को उनकी सांस्कृतिक और बौद्धिक जड़ों से जोड़ता है. (कश्मीरी) पंडितों के लिए यह तीर्थाटन का अहम स्थल है जहां वे आजादी तक बराबर जाते थे. इस तीर्थाटन को खोलने की उनकी अपील श्रीनगर-मुजफ्फराबाद रोड के फिर से खुलने के समय से ही सामने आई है.’ये भी पढ़ें: उमर अब्दुल्ला बोले, ‘मैंने फैक्स के मुद्दे का विरोध किया, असेंबली भंग के लिए आभारी हूं’पीडीपी अध्यक्ष ने पत्र में लिखा है, ‘करतापुर ने (कश्मीरी) पंडित समुदाय को शारदापीठ के लिए तीर्थाटन की संभावना उसी उत्साह से देखने के लिए प्रेरित किया है. पाकिस्तान को कटासराज तीर्थाटन की तर्ज पर ही इस तीर्थाटन के लिए पाकिस्तान को अनुमति देने की प्रधानमंत्री इमरान खान की कथित पेशकश से हमारे विश्वास को बल मिला है.’ये भी पढ़ें: करतारपुर कॉरिडोरः इमरान खान को भारत का जवाब, पवित्र मौके पर नहीं छेड़ना था कश्मीर रागउन्होंने कहा कि कश्मीरी पंडितों के कुछ सदस्यों ने उनसे इस मुद्दे पर चर्चा की और उनसे यह मामला प्रधानमंत्री के सामने उठाने की अपील की.
Source: News18 News

Related posts