खशोगी की हत्या में शामिल सऊदी क्राउन प्रिंस के खिलाफ मिले सबूत: Report

वॉशिंगटन। अमेरिकी न्यूज पेपर वॉल स्ट्रीट जर्नल ने शनिवार को सीआईए का हवाले से एक रिपोर्ट में कहा कि सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने अपने नजदीकी सलाहकार को अक्टूबर में हुई जमाल खशोगी की मौत से पहले कम से कम 11 मैसेज भेजे थे, जिसने कथित तौर पर इस हत्या को अंजाम दिया था। द वॉशिंगटन पोस्ट के लिए काम करने वाले सऊदी मूल के जर्नलिस्ट जमाल खशोगी की हत्या के बाद अमेरिका और सऊदी अरब के रिश्तों के बीच गंभीर खतरा पैदा हुआ है। इस बीच अमेरिकी सीनेटर्स ने भी खशोगी की हत्या के बारे में एकत्रित हुई खुफिया जानकारी की मांग की है।

वॉल स्ट्रीट जर्नल ने कहा कि सीआईए की रिपोर्ट के अनुसार, जांच एजेंसी को पूरा पता है कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद ने व्यक्तिगत रूप से खशोगी की हत्या और उसे टारगेट बनाने का आदेश दिया था। हालांकि, सीआईए ने अभी सीधे रूप से प्रिंस को इसके लिए दोषी नहीं ठहराया है।

जर्नल ने सीआईए की रिपोर्ट का हवाला देते हुए मोहम्मद बिन सलमान ने सऊद अल-कहतानी को इलेक्ट्रॉनिक मैसेज भेजे थे। यह वही कहतानी है जिसने खसोगी की हत्या करने वाले 15 सदस्यीय दल का नेतृत्व किया था। इस्तांबुल में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कहतानी ने उन 15 हत्यारों को खशोगी की हत्या करने के लिए कहा था।

वॉल स्ट्रीट जर्नल रिपोर्ट के अलावा अमेरिकी खुफिया अधिकारियों ने को पूरे विश्वास के साथ निष्कर्ष निकाला है कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने ही खशोगी की हत्या करने का आदेश दिया था। हालांकि, ट्रंप समेत अमेरिकी अधिकारियों एक बार जांच पूरी नहीं होने तक का इंतजार करने के लिए कहा है।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें – निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!
Source: OneIndia Hindi

Related posts