करतारपुर के बाद POK में स्थित शारदा पीठ खुलवाने की उठी मांग, महबूबा ने लिखी पीएम को चिट्ठी

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर कश्मीर पंडितों के लिए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में शारदा पीठ खुलवाने के लिए आग्रह किया है। भारत और पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर को एक ‘नई शुरुआत’ बताते हुए महबूबा मुफ्ती ने शारदा पीठ को भी खोलने की मांग की है। मुफ्ती ने पीएम मोदी को लिखे लेटर में कहा कि उन्होंने कश्मीरी पंडितों इस मामले में मुलाकात की थी।

पीडीपी चीफ ने पीएम मोदी को कहा, ‘पीपल-टू-पीपल कॉन्टेक्ट में विश्वास रखने वाली हमारी पार्टी ने हमेशा से ही दोनों देशों के बीच विश्वास को ध्यान में रखा है और हम कई बार जम्मू कश्मीर के पारंपरिक रास्तों को खोलने की वकालत कर चुके हैं।’ मुफ्ती ने पीएम को कहा कि आपके ही नेतृत्व में मुजफ्फराबाद और रावलकोट रूट फिर से बहाल हुए थे और अब करतारपुर कॉरिडोर ने एक और अवसर खोला है।

मु्फ्ती ने कहा, ‘शारदा पीठ के लिए जो कश्मीरी पंडित लड़ाई लड़ रहे हैं, उन्होंने मुझसे मुलाकात कर आप तक इस मामले को पहुंचाने के लिए आग्रह किया था।’ मुफ्ती ने पीएम से उम्मीद जताई कि उनके लिए यह सर्वोच्च प्राथमिकता होगी और जल्द ही इसे संज्ञान में लेंगे। मुफ्ती ने कहा कि अगर आप इसे खुलवाने में मदद करेंगे तो राज्य के सभी नागरिक इसका वेलकम करेंगे।
इससे पहले मुफ्ती ने कश्मीरी पंडितों से मुलाकात कर उन्हें भरोसा दिलाया था कि पीएम मोदी इस मामले को जल्द संज्ञान में लेंगे और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ यह मुद्दा उठाएंगे। पीडीपी चीफ ने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि अगर ग्रेट कॉरिडोर की तरह यहां भी ऐसा (शारदा पीठ के लिए रास्ता खोलना) हुआ था, दोनों देशों के लिए बहुत ही अच्छी बात होगी।

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में किशनगंगा नदी के किनारे पर शारदापीठ देवी सरस्वती का प्राचीन मन्दिर स्थित है। शारदा पीठ छठी से लेकर बारहवीं सदी तक शिक्षा के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण केंद्र हुआ करता था।

People’s Democratic Party (PDP) President Mehbooba Mufti writes to Prime Minister Narendra Modi for opening of Sharda Peeth pilgrimage in Pakistan Occupied Kashmir pic.twitter.com/lvbfdHLe9e
— ANI (@ANI) December 1, 2018

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें – निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!
Source: OneIndia Hindi

Related posts